comscore
Friday, December 9, 2022
- विज्ञापन -

2000 Rupees Notes: क्या सच में बंद हो गए 2 हजार के गुलाबी नोट? जानें सच्चाई

Published Date:

2000 Rupees Notes:साल 2016 में नोटबंदी हुई तो 1000 और 500 के नोट बंद हो गए. हालांकि 500 के नए नोट चलाए गए लेकिन 1000 की जगह 2000 के नोट मार्केट में आए. जब ये नोट आए तो लोगों ने इसका खूब उपहास उड़ाया क्योंकि इसका रंग पिंक था. ये पिंक कलर के नोट मार्केट में आए तो तेजी से लेकिन अब धीरे-धीरे विलुप्त होते जा रहे हैं. कुछ लोगों ने कहा कि अब नए नोट छपने बंद हो गए जो हैं बस वही चलेंगे. किसी ने कहा कि अब एटीएम में भी 2000 Rupees Notes नहीं डाले जा रहे लेकिन असल में सच्चाई क्या है ये शायद ही किसी को पता हो.

क्या है 2000 Rupees Notes की सच्चाई?

RBI के मुताबिक, साल 2019 में 1 लाख रुपये नोटों में 2000 Rupees Notes की संख्या 32,910 रुपये होती थी. इसे मार्च, 2021 में घटकर 24, 510 रुपये पाया गया. 30 लाख करोड़ रुपये के कुल सर्कुलेशन में 2 हजार के नोट की कीमत 2019 में 6 लाख 58 हजार करोड़ हो गई थी. इसके एक साल बाद यह और घट गई जो 4 लाख 90 हजार करोड़ रह गया. एक्सपर्ट्स ने कहा कि यह संभल है 2 हजार के नोटों की जमाखोरी की जा रही है. बड़े मूल्य वाले नोटों की छपाई पर ज्यादा खर्च आता है. ऐसे में इन नोटों की छपाई भी कम ही होती है.

Saral Pension Policy

सरकार को शंका हुई कि 2 हजार के नोटों पर काला धन जमा किया जा रहा है इसलिए धीरे-धीरे इसकी छपाई कम कर दी. अब इसके बारे में सरकार किसी तरह का कोई बयान नहीं दे रही. 2 हजार का पिंक नोट ना तो खत्म हुआ है और ना ही और आ रहा है तो इसके पीछे की सच्चाई किसी को नहीं पता. बैंक हो या ATM हर जगह पैसे निकालने पर सबसे ज्यादा 500 के नोट ही मिलते हैं. खबर ये भी है कि हर जगह 2 हजार के नोट का उपयोग काफी कम कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें: Pink Tax: क्या है पिंक टैक्स? जानें IT और GST से ये कैसे होता है अलग

Arpit Omer
Arpit Omerhttp://hindi.thevocalnews.com
अर्पित ओमर The Vocal News Hindi में बतौर Senior Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि बिज़नेस और पॉलिटिक्स में है और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई लखनऊ यूनिवर्सिटी से की है.
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें