comscore
Friday, December 9, 2022
- विज्ञापन -

7th Pay Commission Update: डीए में बढ़ोतरी को लेकर केंद्र सरकार ने लिया बड़ा फैसला,इन राज्यों ने भी की बढ़ोतरी

Published Date:

7th Pay Commission Update: केंद्रीय कर्मचारी अपने डीए में बढ़ोतरी से लेकर बकाया एरियर के भुगतान के इंतजार में हैं।  अब खबर है कि सरकार जल्द ही इसपर फैसला लेने वाली है। बढ़ती महंगाई को देखते हुए कहा जा रहा है कि सरकारी कर्मचारियों के डीए में ऐलान होना तय है। फिलहाल सरकारी कर्मचारियों को 34 फीसदी के दर से डीए का भुगतान किया जा रहा है। महंगाई के आकड़ों को देखते हुए कहा जा रहा है कि सरकार 4-5 फीसदी डीए में इजाफा कर सकती है साथ ही जल्द ही कर्मचारियों को बकाया डीए का भी भुगतान किया जा सकता है।हालांकि आपको बता दें कि अभी तक गुजरात,महाराष्ट्र,छत्तीसगढ़ और तमिलनाडु की सरकारें डीए बढ़ाने की घोषणा कर चुके हैं।

सरकारी कर्मचारियों का 18 महीने का डीए बकाया

कोरोना महामारी के दौरान सरकार ने डीए को होल्ड कर दिया था. कर्मचारी लगातार इसके भुगतान की मांग कर रहे हैं।  हालांकि, डीए में बढ़ोतरी और बकाया डीए भुगतान पर सरकार की ओर से किसी भी तरह की घोषणा नहीं की गई है। इस साल मार्च महीने में सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के डीए में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की थी खबरों के मुताबिक सरकार अगस्त के पहले सप्ताह में बड़ा ऐलान कर सकती है।बताया जा रहा है कि सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के खाते में एकमुश्त 1.50 लाख रुपये डालने की तैयारी कर रही है

5 फीसदी तक बढ़ सकता है डीए

अगर केंद्र सरकार डीए में 5 फीसदी का इजाफा करती है, तो केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 34 फीसदी से बढ़कर 39 फीसदी हो जाएगा. महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का फैसला सरकार AICPI Index के आधार पर कर करती है. AICPI इंडेक्स के आंकड़े संकेत दे रहे हैं कि इस बार डीए में 4-5 फीसदी तक की बढ़ोतरी हो सकती है. हालांकि, अभी तक सरकार ने इस पर कुछ भी नहीं कहा है. जून महीने में भी खुदरा महंगाई दर रिजर्व बैंक के तय लक्ष्य से अधिक रही है. इसको देखते हुए भी माना जा रहा है कि कर्मचारियों के डीए में इजाफा होना तय है।

ये भी पढ़ें: Income With Old Coins: पुराने सिक्के घर में हो तो खुल सकता है आपकी किस्मत का दरवाजा, मिनटों में बेचकर हो जाएंगे मालामाल

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें