comscore
Thursday, December 1, 2022
- विज्ञापन -

E-KYC: सरकार ने लिया बड़ा फैसला, तुरंत करवा ले ये काम वरना बंद हो जाएगी पेंशन

Published Date:

E-KYC: एक तरफ जहां सरकार देश के आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग को मजबूत करने के लिए और सीनियर सिटीजन को उनका हक दिलवाने के लिए तरह तरह की योजनाएं चला रही है वही दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी मामले सामने आए हैं जिनमे पता चला है कि कुछ ऐसे भी लोग हैं जो उन योजनाओं का लाभ लेने के योग्य न होते हुए भी लाभ उठा रहे हैं। ऐसे अपात्र लाभार्थियों को अलग करने और सही व्यक्ति तक योजना का लाभ पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा केवाईसी करवाई जा रही है।जिसकी शुरुआत किसान सम्मान निधि योजना से की गई थी और अब उसी कड़ी में विधवा पेंशन और वृद्धावस्था पेंशन के लाभार्थियों को भी पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए अपने खाते की ई-केवाईसी (E-KYC) करवानी पड़ेगी। इसके बाद लाभार्थी को तिमाही की जगह हर महीने पेंशन दी जा सकेगी। दरअसल किसान सम्मान निधि में बड़ी तादाद में अपात्र लाभार्थी सामने आने के बाद कृषि विभाग द्वारा शुरू करवाई गई ई-केवाईसी को अब समाज कल्याण और महिला कल्याण विभाग ने भी अपना लिया है।

कैसे हो रही E-KYC

इस प्रक्रिया के तहत लाभार्थी के आधार कार्ड,उसके पैन और बैंक खाते को जोड़ा जा रहा है। यही नहीं समाज कल्याण विभाग तो इसके साथ ही लाभार्थी के जीवित होने का ‘जीवन प्रमाण-पत्र’ भी लगवा रहा है। समाज कल्याण विभाग की वृद्धावस्था पेंशन योजना में अभी करीब 56 लाख लाभार्थी हैं जिनके बैंक खातों में अप्रैल से जून की पहली तिमाही की पेंशन की राशि एक हजार रुपये प्रतिमाह प्रति लाभार्थी की दर से भेजी जाने लगी है।

कितने हैं लाभार्थी

विभाग के अफसरों के मुताबिक ई-केवाईसी (E-KYC) पूरी होने के बाद पूरी तरह सही व सम्यापित आंकड़े सामने आ जाएंगे तब लाभार्थियों को हर महीने वृद्धावस्था पेंशन राशि दी जाएगी। उधर, महिला कल्याण निदेशक मनोज राय ने बताया कि उनके विभाग की निराश्रित/विधवा पेंशन योजना में अभी करीब 32 लाख लाभार्थी हैं। उन्होंने बताया कि अगर कोई लाभार्थी महिला गांव छोड़ कर चली गयी हो, या उसने दूसरी शादी कर ली हो तो उसे योजना के लिए अपात्र मान लिया जाता है। वहीं समाज कल्याण विभाग की वृद्धावस्था पेंशन योजना में करीब 56 लाख लाभार्थी हैं।

यह भी पढ़ें: MASHROOM KI KHETI- आज ही शुरू करें ये सुपरहिट बिजनेस, घर बैठे आयेंगे लाखो रूपये

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Vivo Cheapest Smartphone: आ गया वीवो का सस्ता और धांसू फीचर वाला मोबाइल, जानें डिटेल्स

Vivo Cheapest Smartphone:वैसे तो मार्केट में हर स्मार्टफोन एक...

Realme Best Smartphone: बेहतरीन फीचर्स के साथ इस मोबाइल की कीमत है बहुत कम, जानें डिटेल्स

Realme Best Smartphone: रियलमी के स्मार्टफोन लोगों को काफी...

Toyota Innova Electric: पहली बार सड़कों पर दौड़ती दिखी MPV, झलक देख आप भी हो जाएंगे इम्प्रेस

Toyota Motor (टोयोटा मोटर) ने हाल ही में इंडोनेशिया...

E-Shram Card: अब व्यापारियों को भी मिलेगी हर महीने पेंशन, सरकार ने चलाई ये खास स्कीम

E-Shram Card: केंद्र सरकार द्वारा कई सारी ऐसी योजनाओं...

Samsung Galaxy A54: मार्केट में आया सैमसंग का धांसू स्मार्टफोन, फीचर्स उड़ा देंगे होश!

Samsung Galaxy A54:मार्केट में एक से बढ़कर एक स्मार्टफोन...