comscore
Tuesday, November 29, 2022
- विज्ञापन -

Gratuity Rules: लागू हुए नए नियम, जानें कब मिलेगा ग्रेच्युटी का अमाउंट और कैसे होगा कैलकुलेशन

Published Date:

Gratuity Rules: केंद्र सरकार ने देश में श्रम सुधार के लिए 4 नए श्रम कानू लागू कर दिए है। इस संबंध में श्रम राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने लोकसभा में लिखित जानकारी दी है।नए श्रम कानून के लागू होने के बाद कर्मचारियों के वेतन, अवकाश, भविष्य निधि और ग्रेच्युटी में बदलाव हो गया है।

इन कानूनों के लागू हो जाने के बाद ग्रेच्युटी (Gratuity) के लिए किसी भी संस्थान में लगातार 5 साल नौकरी करने की बाध्यता खत्म हो गई। नया श्रम कानून लागू होते ही यह व्यवस्था लागू हो गई है. आइए आपको बताते हैं क्या है नए नियम और कैसे मिलेगी ग्रेच्युटी…

इस फॉर्मूले से तय होती है ग्रेच्‍युटी

ग्रेच्‍युटी की रकम तय करने का एक निश्चित फॉर्मूला होता है. इस फॉर्मूले से आप भी ये जान सकते हैं कि आपको कितनी ग्रेच्‍युटी मिलेगी. फॉर्मूला है – (अंतिम सैलरी) x (कंपनी में कितने साल काम किया) x (15/26). अंतिम सैलरी से मतलब, आपकी पिछले 10 महीने की सैलरी के औसत से है. इस सैलरी में मूल वेतन, महंगाई भत्ता और कमीशन को शामिल किया जाता है. महीने में रविवार के 4 दिन वीक ऑफ होने के कारण 26 दिनों को गिना जाता है और 15 दिन के आधार पर ग्रेच्यु​टी का कैलकुलेशन होता है. 

Gratuity Rules
source- pixabay

मान लीजिए 50 हजार कमाते हैं आप

मान लीजिए कि आपकी अंतिम सैलरी 50 हजार रुपए है. ऐसे में कैलकुलेशन इस फॉर्मूले 50000x10x15/26 के आधार पर होगा.  इस फॉर्मूले के आधार पर आपको 288461.54 रुपए ग्रेच्‍युटी के रूप में मिलेंगे. वहीं अगर आपकी अंतिम सैलरी का औसत 50 हजार रुपए और नौकरी का पीरियड 15 सालों का है, तो 50000x15x15/26 फॉर्मूले के हिसाब से आपको 432692.30 रुपए मिलेंगे. हालांकि कंपनी अगर चाहे तो अपनी इच्‍छा से तय अमाउंट से ज्‍यादा रकम भी दे सकती है,  लेकिन नियमों के अनुसार ये 20 लाख से ज्‍यादा नहीं होनी चाहिए.

क्या है Gratuity Rules?

लोकसभा में दाखिल ड्राफ्ट कॉपी में दी गई जानकारी के मुताबिक, अगर कोई कर्मचारी एक साल तक किसी जगह काम करता है तो वह ग्रेच्युटी का हकदार होगा. सरकार ने यह व्यवस्था फिक्स्ड टर्म कर्मचारियों यानी अनुबंध पर काम करने वालों के लिए की है।

यदि कोई व्यक्ति किसी कंपनी के साथ एक वर्ष की निश्चित अवधि के लिए अनुबंध पर काम करता है, तो भी उसे ग्रेच्युटी (Gratuity) मिलेगी. संविदा कर्मी को अब नियमित कर्मचारी की तरह सामाजिक सुरक्षा का अधिकार दिया जा रहा है. इसका लाभ संविदा कर्मचारियों के अलावा मौसमी प्रतिष्ठानों में काम करने वालों को भी मिलेगा.

ये भी पढ़ें: PM SHRAM YOGI YOJANA- फायदा ही फायदा!यहां निवेश करें हर महीने 200 रुपये और पाएं 36 हजार रुपये पेंशन

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Vastu plants: घर के अंदर लगा लें केवल ये 2 पौधे, जीवन में कभी नहीं छाएगी कंगाली

Vastu plants: वास्तु शास्त्र में हमारे जीवन को बेहतर...

Whatsapp Data Leak: कहीं आपका डेटा चोरी तो नहीं हुआ! जानें चेक करने का तरीका

Whatsapp Data Leak: सोशल मीडिया का इस्तेमाल आजकल हर...

Black Friday Sale: बम्पर ऑफर! सैमसंग 43 इंच टीवी के दाम हुए आधे, जानें कीमत

Black Friday Sale: घर को थियेटर बनाना चाहते हैं...