comscore
Friday, December 9, 2022
- विज्ञापन -

IRCTC: ट्रेन में कितनी तरह की होती है वेटिंग लिस्ट और क्या होता है उसका मतलब? जानें

Published Date:

IRCTC: कोरोना महामारी के बाद से Train की यात्रा के लिए टिकट रिजर्वेशन (Train Ticket Reservation) कराने का प्रचलन बढ़ा है. कोरोना से पूर्व रिजर्वेशन बहुत कम लोग कराते थे. क्योंकि टिकट खिड़की पर पहुंचकर यात्रा टिकट मिल जाती थी. आपको पता होगा कि अगर आपने यात्रा के दिन से काफी पहले टिकट बुक कराया है, तो आपको जरूर कंफर्म बर्थ मिली होगी. लेकिन बहुत बार जब हम यात्रा के दिन के आस-पास टिकट रिजर्वेशन कराते हैं तो टिकट वेटिंग में बुक होता है. अब वेटिंग लिस्ट (Waiting list) कई प्रकार की होती हैं. किस वेटिंग लिस्ट में टिकट कंफर्म होने की कितनी संभावना होती है, इसकी जानकारी अक्सर लोगों को नहीं होती है. आज हम आपको वेटिंग लिस्ट के अलग-अलग प्रकारों के बारे में बताएं. आप यहां जानेंगे किस वेटिंग लिस्ट में टिकट कंफर्म होने की संभावना अधिक रहती है.

वेटिंग लिस्ट (WL)

जब आप टिकट बुक कराते हो, तो बहुत बार WL कोड लिखा हुआ आता है। इसका मतलब होता है वेटिंग लिस्ट (Waiting List)। यह वेटिंग लिस्ट का सबसे आम कोड होता है. यहां आपका टिकट कंफर्म होने की संभावना सबसे अधिक होती है. उदाहरण के लिए अगर टिकट में GNWL 7/WL 6 लिखा हुआ है, तो इसका अर्थ है कि आपकी वेटिंग लिस्ट 6 है. मतलब आपका टिकट उस स्थिति में कंफर्म होगा, जब आपके पहले टिकट बुक करने वाले 6 यात्री अपना टिकट कैंसिल करा दें.

IRCTC

IRCTC

पूल्ड कोटा वेटिंग लिस्ट (PQWL)

टिकट पर लिखे इस कोड का मतलब होता है पूल्ड कोटा वेटिंग लिस्ट (Pooled Quota Waiting List). जब किसी लंबी दूरी की ट्रेन में बीच के किन्हीं दो स्टेशनों के बीच यात्रा की जाती है, तो वेटिंग टिकट PQWL में डाल दिया जाता है. यहां किसी भी स्टेशन पर कंफर्म टिकट यदि रद्द होती है, तो पीक्यूडब्ल्यूएल वाले यात्री का टिकट कंफर्म हो जाता है.

RAC

आरएसी कोड का मतलब होता है, रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन (Reservation Against Cancelation) आरएसी में दो पैसेंजर को एक ही बर्थ पर यात्रा करने की अनुमति दी जाती है. इसके बाद जिन यात्रियों का टिकट कंफर्म होता है और वे यात्रा नहीं करते, तो उनकी बर्थ आरएसी के तौर पर दूसरे यात्रियों को दे दी जाती है.

रोड साइड स्टेशन वेटिंग लिस्ट (RSWL)

कई बार टिकट पर RSWL कोड लिखा होता है. इसका मतलब है रोड साइड स्टेशन वेटिंग लिस्ट (Road Side Waiting List)। जब टिकट ट्रेन के शुरू होने वाले स्टेशनों से रोड साइड स्टेशन या उसके पास पड़ने वाले स्टेशनों के लिए बुक कराया जाता है, तो यह कोड आता है.इस तरह के वेटिंग टिकट में कन्फर्म होने की संभावना काफी कम रहती है.

रिमोट लोकेशन वेटिंग लिस्ट (RLWL)

रिमोट लोकेशन वेटिंग लिस्ट (Remote Location Waiting List) के कंफर्म होने की संभावना सबसे ज्यादा होती है. यह छोटे स्टेशनों का बर्थ का कोटा होता है. इन इंटरमीडिएट स्टेशनों पर वेटिंग टिकट को RLWL कोड दिया जाता है.

तत्काल कोटा वेटिंग लिस्ट (TQWL)

यह तत्काल कोटा वेटिंग लिस्ट (Tatkal Quota Waiting List) होती है. तत्काल में टिकट बुकिंग करने पर यदि नाम वेटिंग लिस्ट मे आता है, तो यह कोड दिखाई देता है. इसके कंफर्म होने की संभावना काफी कम होती है.

7/7
नो शीट बर्थ (NOSB)
रेलवे 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों से चाइल्ड फेयर लेता है, लेकिन उन्हें सीट अलॉट नहीं होती है. ऐसे में पीएनआर स्टेट्स में NOSB कोड दिखाई देता देता है.
उम्मीद करते हैं ये जानकारी आपको अच्छी लगी होगी इसे आप शेयर करेंगे.

Dushyant Kumar
Dushyant Kumarhttp://hindi.thevocalnews.com
दुष्यंत कुमार The Vocal News में बतौर Senior Sub Editor कार्यरत हैं. दुष्यंत को राजनीति और बिजनेस पर लिखना अच्छा लगता है. इन्होंने अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय से की है.
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें