PMFBY: प्रधानमंत्री फसल बीमा करने वाली कंपनियों पर सख्त हुई सरकार, अब लागू होगा ये नया नियम, आप भी पढ़ें

PMFBY

PMFBY : केंद्र सरकार द्वारा किसानों की फसलों में नुकसान की भरपाई करने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) को शुरू किया था. केंद्र सरकार ने इसके लिए किसानों को काफी जागरूक किया जिसकी वजह से पिछले साल के मुकाबले प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अधिक आवदेन प्राप्त हुये हैं. खेती में बढते जोखिमों के कारण भी ज्यादा से ज्यादा किसान इस योजना में जुड़ रहे हैं.

महाराष्ट्र कृषि विभाग ने जारी किये आंकड़े को अनुसार खरीफ सीजन की शुरुआत में ही मौसम के बदलते रुख से सबक लेते हुये करीब 91.91 लाख किसानों ने फसल बीमा के लिये आवेदन किया है, जिसके तहत करीब 54.24 लाख हेक्टेयर खेती योग्य जमीन को सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है. वहीं पिछले साल ये आंकडा सिर्फ 84.07 लाख आवेदनों तक ही सीमित था.

PMFBY
Source- PixaBay

बीमा कंपनियों पर होगी सख्ती

लगातार प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहद बीमा करने वाले कंपनियों की मनमानी और कवरोज ना देने की खबरे सामने आ रही थीं, जिसके कारण कई किसानों का भरोसा इस योजना से कम होता जा रहा था, लेकिन महाराष्ट्र राज्य सरकार ने इस समस्या का समाधान ‘बीड मॉडल’ के रूप में निकाला है. राज्य सरकार इस मॉडल को लागू करेगी, जिससे भुगतान किये जाने वाले मुआवजे की राशि के पार ना करने की परिस्थिति में किसानों से लिये गये प्रीमियम की राशि वापस करना होगी.

इससे बीमा कंपनियों की मनमानी को रोककर किसानों के हितों की रक्षा हो सकेगी. और फसलों को सुरक्षा कवच प्रदान करके किसान चिंतामुक्त होकर खेती कर सकते हैं. आप भी इस योजना से अभी तक नहीं जुड़े हैं तो जरूर जुड़े और इस जानकारी को दूसरों के साथ शेयर करें.

ये भी पढ़ें : कर्जमाफी को लेकर सरकार ने की बड़ी घोषणा, 73,638 किसानों के इतने करोड़ रुपए होंगे माफ, तुरंत देखें पूरी जानकारी