POST OFFICE VS SBI: यहां निवेश करने पर मिलेगा ज्यादा रिटर्न,जानिए कौन देता है ज्यादा ब्याज पोस्ट ऑफिस या डाकघर

SBI VS POST OFFICE
SOURCE- THE VOCAL NEWS

POST OFFICE VS SBI: बचत करने वालों के बीच RD यानी कि आवर्ती जमा योजना काफी लोकप्रिय है। आप किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में अपना RD खाता खुलवा सकते हैं। हालांकि, अलग अलग बैंक में इसके तहत दिया जाने वाला ब्याज अलग अलग हो सकता है। आप State Bank Of India और पोस्ट ऑफिस में अपना RD खाता खुलवा सकते हैं।इसके जरिए हमें निश्चित कस्तों को जमा करने पर, एक निश्चित ब्याज दर का लाभ हासिल होता है। किसी RD खाते में एक बार तय की गई किस्त की राशि को बदला नहीं जा सकता है। RD की अवधि समाप्त होने पर ग्राहक को मैच्योरिटी राशि प्राप्त होती है। मैच्योरिटी के समय, निवेशित राशि का भुगतान संचित ब्याज के साथ उपयोगकर्ता को वापस कर दिया जाता है। हम यहां पर आपको पोस्ट ऑफिस RD और SBI RD के बारे में बताने जा रहे हैं।

POST OFFICE VS SBI:

SBI रेकरिंग डिपॉडिट (RD)

आम जनता के लिए SBI आरडी की ब्याज दरें 5 फीसदी से 5.4 फीसदी और वरिष्ठ नागरिकों को 50 बेसिस प्वाइंट्स ज्यादा ब्याज ऑफर करता है. ये दरें 8 जनवरी 2021 से प्रभावी हैं. SBI RD की मैच्योरिटी 1 साल से लेकर 10 साल तक होती है. SBI RD खाते में ग्राहक न्यूनतम 100 रुपए और 10 रुपए के गुणकों में हर महीने पैसा जमा कर सकते हैं. अधिकतम जमा की कोई सीमा नहीं है.

SBI आरडी दरें 8 जनवरी 2021 से प्रभावी-

1 वर्ष से 2 वर्ष से कम – 4.9 फीसदी

2 साल से 3 साल से कम – 5.1 फीसदी

3 साल से 5 साल से कम – 5.3 फीसदी

5 साल और 10 साल तक – 5.4 फीसदी

पोस्ट ऑफिस में RD खाता

भारतीय डाक (Post Office) आपको आरडी अकाउंट खुलवाने का ऑप्शन देता है. यहां आप 100 रुपए से अपनाआरडी अकाउंट खुलवा सकते हैं. अगर आपकी उम्र 18 साल से ज्यादा है तो आप पोस्ट ऑफिस में अपना RD खाता खुलवा सकते हैं. हालांकि नाबालिग की तरफ से उसका अभिभावक अकाउंट खुलवा सकता है।

पोस्ट ऑफिस RD दरें

सालाना ब्याज: 7.2 फीसदी
मंथली निवेश: 5 हजार रुपये
5 साल बाद मेच्योरिटी पर रकम: 3.61 लाख रुपये
कुल निवेश: 3 लाख लाख रुपये
फायदा: 61 हजार रुपये

यह भी पढें: EPFO – इस तारीख को आपके PF खाते में सरकार डालेगी ब्याज का पैसा ,जानें चेक करने का सही तरीका