SCHOLARSHIP SCHEME: पढ़ाई के लिए नही होगी पैसे की टेंशन,योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

Scholarship scheme 2022
pixabay

SCHOLARSHIP SCHEME: उत्तर प्रदेश के अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए खुशखबरी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अनुसूचित जाति के मेधावी छात्रों को जल्द बड़ा तोहफा देने वाले हैं।अब सरकार ने ऐसे छात्रों की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाने का फैसला किया है।इसके लिए सरकार मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृत्ति योजना (SCHOLARSHIP SCHEME) चलाने जा रही है।प्रस्ताव पर कैबिनेट में मुहर के बाद जल्द ही सीएम योगी ‘मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृत्ति योजना’ का शुभारंभ करेंगे। आपको बता दें की सरकार की ओर से अनुसूचित जाति के 500 मेधावी छात्रों को संपूर्ण शिक्षण शुल्क, मेस और छात्रावास व्यय के लिए 15 करोड़ रुपये के बजट में व्यवस्था भी की गई है। वहीं सरकार द्वारा इसके लिए समाज कल्याण विभाग की ओर से नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिप्यूट की 250 संस्थाएं और उत्तर प्रदेश की प्रतिष्ठित संस्थाएं चिह्नित कर ली गई हैं।

इन छात्रों को दी जाएगी छात्रवृत्ति

सीएम योगी विधानसभा चुनाव के पूर्व भारतीय जनता पार्टी की ओर से जारी किए गए लोक कल्याण संकल्प पत्र के एक और वादे को जल्द पूरा करने वाले हैं। इसकी रूपरेखा समाज कल्याण विभाग ने तैयार कर ली है। वादे के अनुरूप सरकार की ओर से अनुसूचित जाति के छात्रों की शिक्षा के लिए सौ फीसदी वित्तीय सहायता दी जाएगी। जानकारी के मुताबिक ‘मुख्यमंत्री मेधावी छात्रवृत्ति योजना’ के तहत अनुसूचित जाति के देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में अध्ययनरत, राष्ट्रीय या राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षा में टॉप करने वाले दो-दो छात्रों को छात्रवृत्ति दी जाएगी।

गोरखपुर मे हो रहा परीक्षा केंद्र का निर्माण

आपको बता दें कि अनुसूचित जाति के छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए करीब 12 करोड़ की लागत से गोरखपुर में परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केंद्र का निर्माण कराया जा रहा है. इसमें अनुसूचित जाति के सौ छात्रों की तैयारी हो सकेगी। बता दें कि फिलहाल योगी सरकार द्वारा एक करोड़ 14 लाख से अधिक युवाओं को छात्रवृत्ति दी जा रही है।

ये भी पढ़ें: HDFC Bank: एचडीएफसी बैंक के ग्राहकों को अब फ्री मिलेंगी ये सुविधाएं, जानें पूरी डिटेल