comscore
Wednesday, December 7, 2022
- विज्ञापन -

Share Market: म्यूचुअल फंड में निवेश से पहले जानें 5 काम की बातें, नहीं तो पड़ जाएंगे मुश्किल में

Published Date:

Share Market:  अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं तो ये जानकारी आपके लिए बहुत ही आवश्यक हैं, नहीं तो आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. शेयर बाजार  में कंपनियों की हजारों म्यूचुअल फंड स्कीमें मौजूद होने के कारण काम और भी मुश्किल हो गया है, इसलिए निवेश करने से पहले इन बातों का विशेष ध्यान रखना जरूरी हो गया है। 

निवेश से पहले इन 5  बातों का रखें ध्यान

स्पष्टता होनी चाहिए

पहले आपको तय करना होगा कि निवेश का मकसद क्या है, कितने समय के लिए और कितना निवेश करना है. इन सवालों पर अच्छी तरह से सोच विचार कर लेना चाहिए. खासकर आपको कितने समय के लिए निवेश करना है यह सवाल अहम है. क्योंकि अलग-अलग अवधि के निवेश के लिए म्यूचुअल फंड अलग-अलग होते हैं. छोटी अवधि के निवेश के लिए डेट फंड या लिक्विड फंड चुन सकते हैं. लंबी अवधि के लिए निवेश कर रहे हैं, तो इक्विटी म्यूचुअल फंड अन्य की अपेक्षा सबसे बेहतर रहेंगे।

2.जोखिम

म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले इस बात का आंकलन करना जरूरी है कि निवेश करने के लिए आप कितना जोखिम उठा सकते हैं. क्योंकि अधिक रिटर्न के लिए आपको ज्यादा जोखिम लेना पड़ सकता है. निवेश में सिर्फ रिटर्न ही नहीं आपकी पूंजी भी सुरक्षित होनी चाहिए. इसलिए इस तरह के फंड आपको चुनने होंगे, जिनमें रिटर्न और रिस्क में संतुलन बना रहे।  

3.फंड हाउस और मैनेजर का रिकॉर्ड

अगर आपने निवेश करने के लिए म्यूचुअल फंड का चुनाव कर लिया तो इस स्कीम को लाने वाली कंपनी का रिकॉर्ड गहनता के साथ जरूर देखें. इसके साथ ही कंपनी के मैनेजर का रिकॉर्ड चेक करना भी जरूरी होता है. विशेष रूप से आपको इन बातों के लिए बारे में पता करना है कि फंड हाउस कितने समय से काम कर रहा है, उसकी दूसरी स्कीमों का परफॉर्मेंस कैसा रहा है, कंपनी की साख बाजार में कैसी है. किसी भी म्यूचुअल फंड कंपनी की वेबसाइट पर ये जानकारियां मिल जाती हैं।  ऐसी भी कई वेबसाइट हैं, जहां किसी भी फंड के परफॉर्मेंस, रेटिंग, पोर्टफोलियो की जानकारी मिल जाती है।

4.फंड का पिछला प्रदर्शन अवश्य करें चेक

अगर किसी फंड ने अब तक अच्छा परफॉर्म किया है तो आगे भी उसका प्रदर्शन अच्छा ही रहेगा, यह बिल्कुल जरूरी नहीं. सही फंड का चुनाव करते वक्त अलग-अलग फंड्स के पिछले प्रदर्शन का अध्ययन करें, इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि किसमें निरंतरता है. इससे आपको अपनी पसंदीदा स्कीम और म्युचुअल फंड चुनने में मदद मिलेगी। फंड चुनते वक्त आप अलग-अलग रेटिंग एजेंसियों द्वारा इन फंड्स को दी गई रेटिंग भी जरूर देखें।

5.खर्चों के बारे में भी करें पता

म्यूचुअल फंड का चुनाव करते वक्त आपको इसमें निवेश जुड़े खर्चों के बारे में पता होना चाहिए. एंट्री और एक्जिट लोड, एसेट मैनेजमेंट चार्ज, एक्सपेंस रेश्यो. एसेट मैनेजमेंट चार्ज और एक्सपेंस रेश्यो जैसे खर्चों को जरूर देखना चाहिए. ये सारे खर्च आपके फायदे को कम कर देते हैं. किसी म्यूचुअल फंड के लिए 1.5 फीसदी तक का एक्सपेंस रेश्यो सही माना जाता है. किसी फंड का एक्सपेंस रेश्यो इससे ज्यादा है तो उसमें निवेश से बचें।

ये भी पढ़ें: Hair Care Tips: सफेद बालों से न हों परेशान, एक देसी उपाय से बदल जाएगा आपका लुक, बस कर लें ये काम

Shrikant Soni
Shrikant Sonihttp://hindi.thevocalnews.com
श्रीकांत सोनी, The Vocal News Hindi में बतौर Senior Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि बिज़नेस और लाइफस्टाइल में है और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई MSU से की है
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Hyundai की Cars पर भारी-भरकम छूट!1.5 लाख रूपए तक का सीधा डिस्काउंट, ऐसा मौका फिर नहीं मिलेगा

Hyundai का डिस्काउंट ऑफर: दिसंबर के महीने में ज़्यादातर...

दिल्ली में इन सभी वाहनों पर लग गया है BAN! जल्द जानें वरना भरना पड़ेगा मोटा जुर्माना

दिल्ली सरकार ने बिगड़ती वायु पोल्युशन को देखते हुए...

Chanakya Niti: ऐसे व्यक्तियों का होता है काला दिल, केवल मतलब के लिए बनाते हैं रिश्ते

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य ने स्त्री और पुरुषों के...