सबसे पुरानी एयरलाइंस Jet Airways अब फिर से भरेगी उड़ान, इस योजना को मिली मंजूरी

Jet Airways
Image Credits: Pixahive

देश की सबसे पुरानी एयरलाइंस जेट एयरवेस (Jet Airways) अब फिर से शुरू होने वाली है. नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) ने मंगलवार को कलरॉक-जालान कंसोर्टियम योजना को मंजूरी दे दी है. इस योजना को मंजूरी मिलने से जेट एयरवेज अब एक बार फिर से उड़ान भर सकेगी. आपको बता दें कि साल 2020 में कलरॉक-जालान ने जेट एयरवेज को खरीद लिया था.

रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार एयरलाइन को स्लॉट आवंटित करने के लिए नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) और नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MCA) को 22 जून से 90 दिन का टाइम दिया गया है. इस स्लॉट के आवंटन पर आखिरी फैसला नागरिक उड्डयन नियामक द्वारा लिया जाएगा. हालांकि अभी इस एयरलाइंस के उड़ान भरने में थोड़ा समय लग सकता है.

गौरतलब है कि न्यायिक सदस्यों जनाब मोहम्मद अजमल और वी नलसेनपति की अध्यक्षता वाली पीठ ने सफल समाधान मामले पर आवेदक, ऋणदाताओं, डीजीसीए समेत अन्य सभी पक्षों को सुनने के बाद इस मामले पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. इसके बाद इस मसले पर आज यानि मंगलवार को फैसला सुनाया गया है.

इसलिए बंद हुई थी जेट एयरवेज

आपको बता दें कि देश की सबसे पुरानी एयरलाइंस जेट एयरवेज को साल 2019 में पैसे की कमी होने के कारण बंद कर दिया गया था. इसके बाद साल 2020 में जेट एयरवेज को कलरॉक-जालान ने खरीद लिया था. फिर समाधान योजना के मुताबिक, कलरॉक-जालान कंसोर्टियम ने पांच वर्षों में इसका विस्तार कर 120 फ्लाइटों तक ले जाने का प्रस्ताव रखा है.

ये भी पढ़ें: सोने के दाम में 1,500 से अधिक की हुई गिरावट, जानें आज का भाव