comscore
Friday, February 3, 2023
- विज्ञापन -
HomeबिजनेसBudget 2023-24 के भाषण में हो सकता है इन शब्दों का इस्तेमाल, यहां समझे बजट की A,B,C,D

Budget 2023-24 के भाषण में हो सकता है इन शब्दों का इस्तेमाल, यहां समझे बजट की A,B,C,D

Published Date:

Budget 2023-24: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) एक फरवरी को वित्त वर्ष 2023-24 का आम बजट पेश करेंगी। यह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी फुल बजट होगा। साल 2024 में देश में आम चुनाव होने हैं। इसलिए माना जा रहा है कि अपने आखिरी फुल बजट में मोदी सरकार जनता को राहत दे सकती है।

बता दें कि जैसे हम घर का बजट बनाने के लिए प्लानिंग करते हैं सरकार वैसे ही देश का बजट बनाने के लिए करती है। ऐसे में आज हम आपको बजट की A,B,C,D समझाएंगे और बताएंगे कि इस बार बजट में A to Z तक किन शब्दों का इस्तेमाल वित्तमंत्री कर सकती हैं….

ज़रूर पढ़े : व्यपार और प्यार में कैसा है आपका वास्तु, डेली अपडेट्स !

Budget 2023-24 में यहां रहेंगी नजर

  • A का मतलब Annual Financial Statement

बजट पेश करते समय सरकार लगभग 10 दस्‍तावेज पेश करती है. इसमें सबसे ज्‍यादा अहम Annual Financial Statement होता है. इससे पता चलता है कि सरकार ने वित्‍त वर्ष के दौरान कितना खर्च किया है और कितनी कमाई की है.    

  • D से डिसइनवेस्टमेंट 

जब सरकार सरकारी कंपनी में से अपनी कुछ हिस्‍सेदारर भी बेचती है तो उसे विनिवेश कहा जाता है. इसे इस तरह भी कहा जा सकता है कि सरकार अपने एसेट बेचकर नकदी की उगाही करती है जैसे Air India का डिसइनवेस्टमेंट.    

Budget 2023-24
  • E का मतलब Economic Survey

बजट पेश करने से ठीक एक दिन पहले सरकार, संसद में Economic Survey को पेश करती है. इससे देश की अर्थव्यवस्था का रुख समझ आता है. किस सेक्‍टर में कैसा ट्रेंड रहने वाला है? इस सर्वे से यह भी एनालिसिस किया जाता है कि सरकार किस सेक्टर में अगले बजट में क्या रूपरेखा बना सकती है. 

  • I का मतलब Indirect Tax

सरकार अपनी इनकम के लिए लोगों से टैक्‍स वसूलती है. ऐसे में दो तरह से लोगों पर कर लगाया जाता है. पहला डायरेक्‍ट टैक्‍स जैसे आयकर. वहीं सरकार Indirect Tax के माध्‍यम से भी कमाई करती है.  जैसे जीएसटी (GST) 

  • N का मतलब 

सरकार जितना भी पैसा खर्च करती है उसे दो हिस्‍सों में बांटा जा सकता है. इसे Plan Expenditure और Non Plan Expenditure में समझ सकते हैं. आपको बता दें कि इसमें Non Plan Expenditure प्रोडक्टिव सेक्टर होता है जैसे सब्सिडी, सैलरी और ब्याज.

वहीं Plan Expenditure उसे कहा जाता है, जहां सरकार मंत्रालयों की योजनाओं पर पैसा खर्च करती है. किसी तरह का इन्फ्रास्ट्रक्चर बनाने पर जो खर्च होता है, उसे Plan Expenditure कहा जाता है.  

ये भी पढ़ें: Budget 2023-24- खुशखबरी! सरकार देने जा रही टैक्सपेयर्स को राहत, लागू हुई नई टैक्स व्यवस्था

मिस न करें : ज़िन्दगी जीने और स्वस्थ रहने के सटीक उपाय

Don’t Miss : यहाँ है क्रिकेट का अड्डा, पाएं खेल सम्बन्धी लेटेस्ट अपडेट

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Mahashivratri 2023: भोलेनाथ को क्यों इतना प्रिय है बेल पत्र? ये है वजह

Mahashivratri 2023: भगवान शिव को हिंदू धर्म में विशेष...

Rakhi Sawant ने फिर से लगाए अपने पति आदिल खान पर आरोप, बोलीं ‘आदिल हंसता है मुझ पर’

कंट्रोवर्सी क्वीन राखी सावंत (Rakhi Sawant) सोशल मीडिया पर...

Instagram पर Reels बनाकर कमाओ छप्परफाड़ पैसा, जानें क्या है सॉलिड तरीका

अगर आप इंस्टाग्राम (Instagram) पर दिनभर रील्स बनाते रहते...

Realme 10 Pro 5G: आ गई तारीख! जानें कब लांच हो रहा कोको-कोला एडिशन स्मार्टफोन

कंपनी रियलमी ने अपने कोको-कोला एडिशन स्मार्टफोन Realme 10...

Pakistan: प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने किया कबूल-बोले-‘यहां इधर-उधर घूमते रहते हैं आतंकवादी’

Pakistan: पड़ोसी देश पाकिस्तान की अर्थिक स्थिति इतना खराब...

Business Idea: पुरुषों के लिए परफेक्ट रहेगा ये काम, 30-40% तक की है मोटी कमाई

Business Idea: अगर आप अपना कोई बिजनेस करने की सोच...