comscore
Saturday, February 4, 2023
- विज्ञापन -
Homeशिक्षाRupee से पहले ये थी भारतीय करेंसी और इसकी वैल्यू, जानें Indian Currency का पूरा इतिहास

Rupee से पहले ये थी भारतीय करेंसी और इसकी वैल्यू, जानें Indian Currency का पूरा इतिहास

Published Date:

History of Indian Currency: मनुष्य के बहुत से अविष्कारों में से एक है, Rupee या मुद्रा का अविष्कार. इस अकेले अविष्कार ने पूरी दुनिया का नक्सा ही बदल दिया है. आपको बता दें कि वर्तमान में जो रुपया चलता है दरअसल यह कई सालों के बाद रुपया बना है.इससे पहले कौड़ी, दमड़ी, धेला, पाई और आने का प्रचलन था.लेकिन क्या आजकल की पीढ़ी यह जानती है कि कौड़ी, दमड़ी, धेला, पाई और सोलह आने की वैल्यू कितनी होती थी? यदि नहीं तो आइये इस लेख में इसके बारे में पूरी जानकारी लेते हैं.

Rupee का अविष्कार कैसे हुआ? (History of Indian Currency)

मानव सभ्यता के विकास के प्रारंभिक चरण में वस्तु विनिमय चलता था लेकिन बाद में लोगों की जरूरतें बढ़ी और वस्तु विनिमय से कठिनाइयाँ पैदा होने लगीं जिसके कारण कौड़ियों से व्यापार आरम्भ हुआ जो कि बाद में सिक्कों में बदल गया.

आपको बता दें कि वर्तमान में जो Rupee चलता है दरअसल यह कई सालों के बाद रुपया बना है. सबसे पहले चलन में फूटी कौड़ी थी जो बाद में कौड़ी बनी. इसके बाद कौड़ी से दमड़ी बनी ,दमड़ी से धेला बना ,धेला से पाई बनी, पाई से पैसा बना, पैसे से आना बना,आना से रुपया बना और अब Credit Card और Bitcoin  का जमाना आ गया है.

प्राचीन मुद्रा की एक्सचेंज वैल्यू इस प्रकार थी;

  • 3 फूटी कौड़ी (Footie Cowrie) =1 कौड़ी 
  • 10 कौड़ी (Cowrie) =1 दमड़ी 
  • 2 दमड़ी (Damri) =1 धेला 
  • 1.5 पाई (Pai) =1 धेला 
  • 3 पाई =1 पैसा (पुराना)
  • 4 पैसा =1 आना 
  • 16 आना (Anna)=1 रुपया 
  • 1 रुपया =100 पैसा 

अर्थात 256 दमड़ी की वैल्यू आज के एक रुपये के बराबर थी.

256 दमड़ी =192 पाई=128 धेला =64 पैसा =16 आना =1 रुपया 

भारत में कौन से सिक्के चलन से बाहर हो गये हैं?

भारतीय वित्त मंत्रालय ने 30 जून 2011 से बहुत ही कम वैल्यू के सिक्के जैसे 1 पैसे, 2 पैसे, 3 पैसे, 5 पैसे, 10 पैसे, 20 पैसे और 25 पैसे मूल्यवर्ग के सिक्के संचलन से वापस लिए गए हैं अर्थात अब ये सिक्के भारत में वैध मुद्रा नहीं हैं. इसलिए कोई भी दुकानदार और बैंक वाला इन्हें लेने से मना कर सकता है और उसको सजा भी नहीं होगी.ध्यान रहे कि भारत में 50 पैसे का सिक्का अभी वैध सिक्का है इस कारण बैंक, दुकानदार और पब्लिक उसको लेने से मना नहीं कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: Gulbadan Bano Begum ने इसलिए लिखा हुमायूंनामा, जानें एक शहजादी कैसे बनी मुगल सल्तनत की पहली इतिहासकार

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Maruti Suzuki की इस 7 सीटर कार का सबको इंतजार, Mahindra की बढ़ेगी टेंशन

Maruti Suzuki की कई जबरदस्त कार्स भारतीय मार्केट में...

UPSC Interview Questions: कर रहें हैं परीक्षा की तैयारी तो फटाफट जान लें इन सवालों के जवाब

UPSC Interview Questions: यूपीएससी का एग्जाम क्लियर करके IAS...

Honda Activa Electric जल्द देगी मार्केट में दस्तक, बेहतरीन लुक बना देंगे दीवाना, जानें कीमत

Honda Motorcycle के कई बेहतरीन स्कूटर भारतीय मार्केट में...

Tata Motors की ये है दमदार कार, देखते ही लोग करने लगेंगे तारीफ, जानें कीमत

Tata Motors की कई बेहतरीन गाड़ियां भारतीय मार्केट में...

Hyundai Venue Facelift: धांसू लुक के साथ नए अवतार में लॉन्च हुई नई वेन्यू, जानें कीमत

Hyundai Venue Facelift: Hyundai की कई बेहतरीन गाड़ियां भारतीय...