एसआरएम में बंपर प्लेसमेंट, महामारी के बावजूद 7111 से ज्यादा नौकरियों के ऑफर

कोरोना महामारी के दौर में जहां एक तरफ नौकरियों की किल्लत है तो वहीं दूसरी तरफ एसआरएम इंस्टीट्यूट आफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने साल 2021 में स्नातक की पढ़ाई पूरी करने वाले छात्रों को 7111 से ज्यादा नौकरियों के मौके उपलब्ध कराये हैं, जोकि अपने आप में एक रिकॉर्ड है। यह सभी नौकारियों के आफर बड़ी—बड़ी विश्वस्तरीय आईटी कंपनियों की तरफ से आये हैं.

इस जॉब आफर में सबसे ज्यादा पैकेज 35 लाख रूपये सालाना का बेंगलुरू बेस्ड कंपनी वर्कइंडिया इंफॉरमेशन टेक्नोलॉजी एंड सविर्सेज ने दिया है. महामारी के इस दौर में 600 से ज्यादा कंपनियां वचुर्अली कैंपस में आ चुकी हैं. वहीं जून 2021 तक और ज्यादा कंपनियों के आने की संभावना बरकरार है.

कट्टनकुलाथुर में एसआरएम के सभी मोदीनगर, रामापुरम् और वाडापलानी के छात्रों के लिये केंद्रीयकृत प्लेसमेंट प्रक्रिया को आयोजित किया गया था. एसआरएमआईएसटी में करियर सेंटर में निदेशक एन वेकंटा शास्त्री ने बताया कि एसआरएम के कॉस्मोपोलोटिन कंपोजिन कल्चर और छात्रों की गुणवत्ता को देखते हुये मुख्य कंपनियों ने यहां से छात्रों का चुनाव किया है.

उन्होंने बताया कि सुपर ड्रीम 10 लाख सालाना और ड्रीम पांच लाख रूपये सालाना तक के करीब 2000 नौकरियों के आफर छात्रों को दिये गये हैं। इसके अलावा छात्रों को कंपनियों ने कोर इंजीनियरिंग सेक्टर के लिये भी चुना है। उन्होंने बताया कि पहले दिन काग्नीजेंट ने 1018, टीसीएस ने 983, विप्रो ने 634, इंफोसिस ने 602 नौकरियों के आफर दिये.

इसके अलावा वर्कइंडिया, मोटरक्यू, अमेजॉन, डीई शॉ, पेपल, डायरेक्ट आई, बार्कलेज, एमडिस, नीलसन, कॉमवॉलेट, ओरेकेल, एडोब, कैपजैमिनी, डियोलॉयट, बैंक आफ अमेरिका, जेडएस एसोसिऐट, प्रैक्टल एनॉलिटिक्स, ईवाई और दूसरी बहुत सी कंपनियों ने प्लेसमेंट के आफर दिये हैं.

इसके अलावा कोर इंजीनियरिंग सेक्टर में हीरोमोटोकॉर्प, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एकेजोनोबेल, एचयूएल, आईएफबी, सीमंस, टाइटन, सीएट, हिटाची एबीबी, फिएट, लिंडे, सानाइडर, टाटा केमिकल, एलएंटी ग्रुप, कमिंस, केपीआईअी, अडानी ग्रुप, नीलकमल समेत कई कंपनियों ने नौकरियों के आफर दिये.

भारम के नक्शे में एसआरएम इंस्टीट्यूट आफ साइंस और टेक्नोलॉजी शिक्षा के क्षेत्र में पहले ही अपनी पहचान छोड़ चुका है. चेन्नई से 35 किलोमीटर दूर कट्टनकुलाथुर में 250 एकड़ क्षेत्रफल में यह शानदार संस्थान स्थित है जिसमें भारत और विदेश के करीब 50000 से ज्यादा छात्र पढ़ाई कर रहे हैं.

इसके अलावा यहां पर मेडिकल कॉलेज और जनता के स्वास्थ्य के मामलों से संबंधित रिसर्च सेंटर भी है जोकि तमिलनाडु और पुडुचेरी के लिये नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे का नोडल सेंटर भी है. सेमेस्टर अब्रोड कार्यक्रम के तहत एसआरएम अपने छात्रों को हॉवर्ड और दूसरी प्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालयोंं में इंटर्नशिप कराता है.

एसआरएम को नैक ने A++ ग्रेडिंग दी है और यूनिवर्सिटी को 12 बी का स्टेटस प्राप्त है. संस्थान के सभी इंजीनियरिंग, फॉर्मेसी, आर्किटेक्चर और एमबीए कार्यक्रमों को एआईसीटीई से मंजूरी मिल चुकी है. एसआएएमआईएसटी को अटल रैंकिंग आफ इंस्टीट्यूशन आफ इनोवेशन अचीवमेंटस में तीसरी रैंक प्राप्त हुई है.

साथ ही एसआरएमआईसीटी को क्यूएस और चार स्टार वैश्विक इंडिया सेंटरिक क्यूएस आईगॉज डॉयमंड रेटिंग प्राप्त हो चुकी है. किसान से शिक्षाविद् तक का सफर तय करने वाले वर्तमान में सांसद डॉ टी आर पारीवेनधर ने वर्ष 2002 में संस्थान की स्थापना की थी. डॉ टी आर पारीवेनधर एसआरएम ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशन को भारत के साथ साथ वैश्विक पटल पर सारी पहचान दे रहे हैं.