CBSE Board: 12वीं की परीक्षाएं जून के आखिरी सप्ताह में हो सकती हैं आयोजित

Rajnath Singh
Image Credit: Ani/ Twitter

Meeting: देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को वीडियो कांन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) 12वीं की परीक्षा को लेकर एक उच्चर स्तरीय बैठक की. बैठक में केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, प्रकाश जावड़ेकर, स्मृति ईरानी के अलावा सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षा मंत्रियों, शिक्षा सचिवों, राज्य परीक्षा बोर्डों के अध्यक्षों, हितधारकों की उपस्थिति रही. बैठक में 12वीं की परीक्षाओं को लेकर सीबीएसई ने कहा कि जून के आखिरी सप्ताह में परीक्षा का आयोजन किया जा सकता है. हालांकि अभी कुछ स्पष्ट नहीं हुआ है.

इस दौरान बैठक में विभिन्न शिक्षा मंत्रियों और अधिकारियों ने अपने विचार रखते हुए कहा कि राज्य परीक्षाओं के सुरक्षित आयोजन किए जाएं. माना जा रहा है कि परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया जा सकता है. इसके साथ ही 12वीं बोर्ड में भी केवल प्रमुख विषयों की ही परीक्षाएं आयोजित कराई जाएंगी. जिससे परीक्षा में समय न बर्बाद हो.

दो दिन में अपने सुझाव भेजने के निर्देश

माना जा रहा है कि सभी राज्य 12वीं की परीक्षा आयोजित करने के लिए सहमत थे लेकिन दिल्ली इस परीक्षा को लेकर सहमति नहीं था. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राजनाथ सिंह ने सभी राज्यों को अपने सुझाव दो दिन में भेजने को कहा है. इसके बाद 30 मई तक फैसला लिया जा सकता है.

परीक्षाओं के आयोजन की जिद नासमझी

बैठक आयोजित होने के बाद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि इस समय परीक्षाओं के आयोजन की जिद नासमझी है. उन्होंने कहा कि परीक्षा आयोजित होने से पहले मैनें केंद्र सरकार से बैठक में मांग रखी है कि सभी बच्चों के लिए वैक्सीन की व्यवस्था की जाए.

इसके बाद उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अगर वैक्सीन उपलब्ध करा दे तो राज्य सरकारें एक सप्ताह के अंदर 12वीं के सभी बच्चों और टीचर्स को कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगवा दें. आगे उन्होंने कहा कि दिल्ली में तो हम अधिकतम दो दिन में ही 12वीं के सभी बच्चों और शिक्षकों को वैक्सीन लगवा देंगे. 

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CGBSE) ने 12वीं की बोर्ड की परीक्षाओं की तारीख एक जून रखी है. इस परीक्षा में छात्रों को बच्चों को प्रश्न पत्र प्राप्त होने के पांच दिनों के अंदर उत्तर पुस्तिकाएं जमा करनी पड़ेगी. वहीं गोवा सरकार के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत शाम को परीक्षाओं को लेकर अहम घोषणा करेंगे.

ये भी पढ़ें: IIT मद्रास लाया है सुनहरा अवसर, अब फ्री में कर पाएँगे आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस का कोर्स