रद्द हो गई परीक्षा लेकिन 12 वीं का रिजल्ट कैसे जारी करेगा सीबीएसई, सचिव अनुराग त्रिपाठी ने दी बड़ी जानकारी

image credit: cbse/twitter

CBSE 12 th board exams: पीएम नरेंद्र मोदी ने बीते मंगलवार को सीबीएसई कक्षा 12 वीं की बोर्ड परीक्षा 2021 को रद्द करने का फैसला किया. हालांकि इस निर्णय को छात्रों और अभिभावकों ने पूरे दिल से स्वीकार कर लिया था, लेकिन सीबीएसई, कक्षा 12 के छात्रों को अंक कैसे देगा, यह सवाल फिर भी अनुत्तरित रहा. इसी मुद्दे पर स्पष्टता देने के लिए, राष्ट्रीय शिक्षा बोर्ड के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने अपनी राय रखी.

अंग्रेजी समाचार ‘Times Now’ को दिए इंटरव्यू में त्रिपाठी ने 12 वीं की परीक्षा रद्द करने का निर्णय पर कहा कि “निर्णय प्रधान मंत्री द्वारा लिया गया था जो छात्रों के सर्वोत्तम हित में था. अन्य विकल्पों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में छात्रों के लिए सबसे उचित निर्णय लिया गया है. ”

सीबीएसई मूल्यांकन मानदंड पर बोर्ड सचिव ने बताया कि “अभी वे इसपर विचार कर रहे हैं. सीबीएसई कक्षा 10 के मूल्यांकन मानदंड की तरह, बहुत जल्द कक्षा 12 के छात्रों के लिए भी मूल्यांकन मानदंड निर्धारित करेगा.”

उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि मानदंड ऑब्जेक्टिव होंगे और सभी को स्पष्ट रूप से समझाया जाएगा.

अफवाहों पर छात्र ध्यान न दें: सीबीएसई सचिव

उधर यह कयास लगाए जा रहे थे कि 12 वीं कक्षा का रिजल्ट के लिए 9 वीं और 11 वीं में प्राप्त किए गए अंकों के मूल्याङ्कन पर तय होगा. लेकिन, बोर्ड सचिव ने छात्रों से रिपोर्टों या अफवाहों पर विश्वास न करने का आग्रह किया है.

मूल्याङ्कन पद्दति जारी होने में लग सकता है समय

त्रिपाठी ने मूल्याङ्कन पद्दति पर साफ कहा कि “विचार-विमर्श में दो सप्ताह तक का समय लग सकता है. उन्होंने छात्रों से केवल उस पर विश्वास करने के लिए कहा जो सीबीएसई जारी करता है और सार्वजनिक डोमेन में डालता है.”

रिजल्ट के समय के विषय में त्रिपाठी ने बताया कि “सीबीएसई यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश करेगा कि 12 वीं कक्षा के परिणाम छात्रों को उनकी उच्च शिक्षा के लिए आवेदन करने के लिए समय पर घोषित किया जाए.”

मार्कशीट की दिक्कत आने पर छात्र हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकते हैं

बोर्ड सचिव ने छात्रों के मार्कशीट के सम्बन्ध में विकल्प खुले रखने की बात कही है. इसमें त्रिपाठी ने बताया कि यदि किसी भी छात्र को अपनी मार्कशीट में दिक्कत लगता है, तो वे हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं जो बोर्ड की सार्वजनिक डोमेन में आसानी से उपलब्ध हैं.