PM Research Fellowship: हैदराबाद विश्वविद्यालय के 10 पीएचडी छात्रों का चयन

Representational image: credit/pixels

PM Research Fellowship: हैदराबाद विश्वविद्यालय के छात्रों ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है. संसथान के पीएचडी प्रोग्राम में शामिल 10 विद्यार्थियों को प्रधानमन्त्री रिसर्च फेलोशिप के लिए चुना गया है. इसके तहत सभी छात्रों को 70 हजार रुपये की मासिक फेलोशिप दी जाएगी, हालाँकि पीएचडी कार्यक्रम की डिग्री प्राप्त करने तक उनकी मासिक आय 80,000 रुपये तक बढ़ सकती है.

प्रधानमन्त्री रिसर्च फेलोशिप प्रोग्राम के अंतर्गत अगर फेलोशिप के दौरान किसी छात्र का प्रदर्शन बढ़िया रहता है तो प्रत्येक फेलो को हर साल 2 लाख रुपये का रिसर्च अनुदान भी मिलेगा.

इन ब्रांचों से चुने गए छात्र

आपको बता दें कि इस फेलोशिप प्रोग्राम के लिए स्कूल ऑफ़ केमिस्ट्री और स्कूल ऑफ़ साइंसेज के दो-दो स्कॉलर्स स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग, साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी और स्कूल ऑफ फिजिक्स के तीन-तीन छात्र शोर्टलिस्ट हुए हैं.

20 विद्यार्थियों को किया गया था आवंटित

चयनित छात्रों को विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर और अन्य लोगों ने बधाई दी है. प्रधानमन्त्री रिसर्च फेलोशिप यानी कि पीएमआरएफ (PMRF) 2020 के लिए विश्वविद्यालय के 20 विद्यार्थियों को आवंटित किया गया था.

क्या है प्रधानमन्त्री रिसर्च फेलोशिप प्रोग्राम

बात करें प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप की तो यह केंद्र सरकार द्वारा विश्वविद्यालय के छात्रों को दी जाती है. इसकी अवधि 5 साल की होती है. इस फेलोशिप प्रोग्राम में प्रत्येक महीने छात्रों को 70 से लेकर 80 हजार रुपये तक स्टाइपेंड मिलती है. इसके अतिरिक्त केंद्र सरकार 2 लाख रुपये की सालाना रिसर्च ग्रांट करती है जो कि 5 साल तक दिए जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र में जल्द लिया जाएगा 12 वीं की परीक्षाओं पर निर्णय, शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने जताया भरोसा