क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में भारत के तीन संस्थान टॉप 200 में शामिल, देखें लिस्ट

image credits: Wikimedia

आईआईटी दिल्ली समेत देश की तीन यूनिवर्सिटी ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2022 के टॉप-200 में जगह बनाई हैं. आईआईटी बॉम्बे को 177वीं रैंक, आईआईटी दिल्ली को 185वीं रैंक और आईआएससी बंगलुरु को 186वीं रैंक मिली है. शिक्षा मंत्रालय ने कहा कि तीन भारतीय यूनवर्सिटी ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग्स 2022 में जगह बनाई है. जबकि आईआईएससी बेंगलुरू रिसर्च में नंबर-1 पर रही.

कुछ शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग फिसली तो कहीं दिखी उछाल

क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में आईआईटी बॉम्बे लगातार चौथे साल भारत का शीर्ष संस्थान रहा है. लेकिन 2021 के मुकाबले इस बार आईआईटी बॉम्बे की रैंकिंग चार पायदान फिसलकर 177 पर चली गई है. हालांकि आईआईटी दिल्ली की रैंकिंग में सुधार हुआ है. पिछले साल इसकी रैंकिंग 193 थी लेकिन इस बार 185 रही है.

इसके अलावा इस पहली बार विश्व के शीर्ष 400 विश्वविद्यालयों में आईआईटी मद्रास ने भी 20 पायदान की छलांग लगाई है. इसकी रैंकिंग अब 255 हो गई है. यह आईआईटी मद्रास की 2017 के बाद सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग है. वहीं, आईआईटी खड़गपुर की रैंकिंग 280 और आईआईटी गुवाहाटी संयुक्त रूप से 395वें नंबर पर हैं. आईआईटी गुवाहाटी पहली बार वैश्विक स्तर पर शीर्ष-400 संस्थानों में शामिल हुआ है.

प्रधानमंत्री मोदी ने दी बधाई

क्यूएस वर्ल्ड रैंकिंग में अच्छे परफॉर्म को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईआईएससी बेंगलुरु, आईआईटी बॉम्बे को बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि भारत के और विश्वविद्यालय व संस्थान वैश्विक उत्कृष्ठता में जगह सुनिश्चित करें और युवाओं में बौद्धिक कौशल को सहयोग मिले. इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं.

मैसाच्युसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने लगातार 10वें साल पहले नंबर पर आकर अपनी बादशाहत कायम रखी है. यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड 2006 के बाद से पहली बार दूसरे नंबर पर आया है जबकि स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ कैम्ब्रिज संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर हैं.

ये भी पढ़ें: UP कॉलेज एग्जाम: स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्र होंगे प्रमोट, अंतिम वर्ष की परीक्षा अगस्त में सम्भव