Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस की पदयात्रा का आज पांचवा दिन,राहुल गांधी बोले केरल के DNA में है भारत

bharat jodo yatra

Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस की ओर से निकाली जा रही इस यात्रा का आज पांचवा दिन है।आपको बता दें कि कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ तमिलनाडु के बाद 19 दिन तक केरल के अलग-अलग शहरों में पहुंचेगी।आपको बता दें कि राहुल गांधी ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की शुरुआत श्रीपेरंबदूर से की थी। आज सुबह राहुल गांधी की इस पद यात्रा की शुरुआत केरल के वेल्लयानी जंक्शन से हुई। इस दौरान राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि केरल राज्य सभी का सम्मान करता है।यह राज्य खुद को विभाजित या नफरत फैलाने की इजाजत नहीं देता है।राहुल ने यात्रा में शामिल लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि एक साथ खड़े होना, सद्भाव में एक साथ काम करना केरल के लोगों के लिए स्वाभाविक और सामान्य है।वहीं पार्टी ने इस यात्रा को व्यापक जनसंपर्क अभियान बताया है।बता दें कि इस योजना की शुरूआत पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के स्मारक से की गई है।

html

ये है आज का शेड्यूल

भारत जोड़ो यात्रा रविवार को सुबह 7 बजे वेल्लयानी जंक्शन से शुरू हुई। जो कि सुबह 11 बजे त्रिवेंद्रम के पट्टोम के सेंट मैरी स्कूल में विश्राम करेगी। इसके बाद यात्रा शाम 4 बजे से शुरू होगी। फिर शाम 7 बजे त्रिवेंद्रम के कझाकुटम में विश्राम करेगी।

html

ये है Bharat Jodo Yatra का रूट

भारत जोड़ो यात्रा 17 सितंबर को अलाप्पुझा पहुंचेगी और 21 और 22 सितंबर को एर्नाकुलम जिले से गुजरते हुए 23 सितंबर को त्रिशूर पहुंचेगी। इसके बाद पदयात्रा 26 और 27 सितंबर को पलक्कड़ से होकर 28 सितंबर को मलप्पुरम में प्रवेश करेगी। यात्रा 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। 3,750 किमी और 150 दिनों तक चलने वाली यह यात्रा कन्याकुमारी से जम्मू और कश्मीर तक जाएगी।

html

30 सितंबर को कर्नाटक पहुंचेगी यात्रा

कल केरल से शुरू हुई ये पदयात्रा अगले 17 दिनों तक राज्य से होते हुए 30 सितंबर को कर्नाटक पहुंचेगी, और उसके बाद उत्तर की तरफ अन्य राज्यों में जाएगी। पार्टी ने राहुल समेत 119 नेताओं को “भारत यात्री” नाम दिया है जो कन्याकुमारी से पदयात्रा करते हुए कश्मीर तक जाएंगे। ये लोग कुल 3570 किलोमीटर को दूरी तय करेंगे।

राहुल गांधी ने की स्कूल के छात्रों से बातचीत

तमिलनाडु के कन्याकुमारी से 3,570 किलोमीटर लंबी यात्रा के केरल चरण की शुरुआत करते हुए वायनाड के सांसद राहुल गांधी के स्वागत के लिए कांग्रेस के सदस्यों और कार्यकर्ताओं के साथ-साथ दर्शकों की एक बड़ी भीड़ जुटी थी। दिन की यात्रा का पहला चरण नेय्यत्तिनकारा में तीन घंटे की लंबी पैदल यात्रा के बाद समाप्त हुआ। दूसरा चरण शाम 5 बजे से शुरू होने से पहले, गांधी ने जीआर पब्लिक स्कूल के छात्रों और यहां बलरामपुरम के हथकरघा श्रमिकों के साथ बातचीत की।

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी की महंगी टी-शर्ट पर भाजपा ने साधा निशाना, पलटवार में कांग्रेस बोली-‘मोदी जी के 1.5 लाख के चश्मे पर भी बात हो’