comscore
Wednesday, February 1, 2023
- विज्ञापन -
HomeभारतLal Bahadur Shastri Death Anniversary 2023: देश के दूसरे प्रधानमंत्री ने दिया था 'राष्ट्र देवो भव' का मंत्र

Lal Bahadur Shastri Death Anniversary 2023: देश के दूसरे प्रधानमंत्री ने दिया था ‘राष्ट्र देवो भव’ का मंत्र

Published Date:

Lal Bahadur Shastri Death Anniversary 2023: हर साल 11 जनवरी को लाल बहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि मनाई जाती है। ताशकंद में शास्त्री जी ने विश्व शांति के लिए कहा था कि लड़ाई से समस्याएं सुलझती नहीं है, और पैदा होती है। शांति के लिए मतभेद दूर होना चाहिए। शास्त्री जी ने इस नारे के अलावा “राष्ट्र देवो भवः” का मंत्र भी दिया था। यह मंत्र उन्होंने वाराणसी में संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में दिया था। शास्त्री जी के जीवन से जुड़ा बहुत खास किस्सा।

‘जय जवान जय किसान’ का नारा दिया

देश के अल्पकालिक प्रधानमंत्रित्व काल में जिस शौर्य एवं साहस के साथ लालबहादुर शास्त्री ने शासन किया, वह किसी अन्य प्रधानमंत्री के शासनकाल में नहीं दिखा. वह चाहे पाकिस्तान द्वारा छेड़े युद्ध का मुंहतोड़ जवाब हो, अमेरिका के गेहूं आयात बंद करने की धमकी को ठेंगा दिखाना हो, अथवा देश का समुचित विकास के लिए जवानों और किसानों को  प्रेरित करने वाला ‘जय जवान जय किसान’ का नारा हो. छोटे कद और विशाल व्यक्तित्व वाले इस गुदड़ी के लाल (लाल बहादुर शास्त्री) ने ताउम्र सादगी, कठोर परिश्रम एवं ईमानदारी भरा जीवन जीया

छात्रों को दिया था राष्ट्र देवो भव: का मंत्र


नीरजा ने बताया- बात 27 दिसंबर 1965 को लाल बहादुर शास्त्रीजी वाराणसी में संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में आए थे। तब उन्होंने उपाधिधारक छात्रों से राष्ट्र भावना के तहत कार्य करने के लिए प्रेरित किया था। अपने उद्बोधन में शास्त्रीजी ने कहा था- एक मंत्र है “मातृ देवो भवः” मां की भक्ति के साथ मातृ भूमि के प्रति कर्तव्य की ओर आपको आकृष्ट करेगा। आप जैसे स्नातकों को “राष्ट्र देवो भवः” जैसे नवीन मंत्रो पर भी कार्य करना होगा।

ये भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने तत्काल सुनवाई से किया इनकार, क्या आज से गिराए जाएंगे होटल और घर?

Shrikant Soni
Shrikant Sonihttp://hindi.thevocalnews.com
श्रीकांत सोनी, The Vocal News Hindi में बतौर Senior Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि बिज़नेस और लाइफस्टाइल में है और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई MSU से की है
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

EPFO अकाउंट होल्डर के लिए खुशखबरी, सरकार लेने जा रही बड़ा फैसला

EPFO: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन पेंशन धारकों के लिये...

WhatsApp आज से इन स्मार्टफोन पर नहीं करेगा काम! जानें क्यों हुआ ये बदलाव

WhatsApp: चैटिंग के लिए सबसे ज्यादा व्हाट्सएप इस्तेमाल किया...