विपक्ष के इस कदम से प्रधानमंत्री मोदी हुए ग़ुस्सा, कहा- लोकतंत्र के लिए “खतरा” हैं पारिवारिक पार्टिया

PM Modi
Source- ANI Hindi

आज संविधान दिवस के अवसर पर संसद भवन के सेंट्रल हॉल में कार्यक्रम रखा गया था। जिसका कोंग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों ने बहिष्कार किया था। जिससे प्रधानमंत्री मोदी बेहद ख़फ़ा नज़र आए, जिसके बाद उन्होंने कहा कि ये पार्टिया लोकतंत्र के लिए ख़तरा हैं। जिसके बाद राजनीति का दौर शुरू हो गया। संसद के सेन्ट्रल हॉल में शुक्रवार को यानी आज संविधान दिवस का कार्यक्रम मनाया गया।

संविधान दिवस के कार्यक्रम को संबोधित करने के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि लोकतंत्र के पारिवारिक पार्टियां ख़तरा हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संविधान दिवस कार्यक्रम के दौरान कहा कि भारत एक ऐसे संकट की तरफ बढ़ रहा है, जो संविधान के प्रति समर्पित लोगों के लिए चिंता का विषय है, लोकतंत्र के प्रति आस्था रखने वालों के लिए चिंता का विषय है और वह है पारिवारिक पार्टियां।

योग्यता के आधार पर एक परिवार से एक से अधिक लोग जाएं, इससे पार्टी परिवारवादी नहीं बन जाती है। लेकिन एक पार्टी की पीढ़ी दर पीढ़ी राजनीति में है।इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राजनीतिक पार्टी भी संविधान को जन-जन तक पहुंचाने का महत्वपूर्ण हिस्सा है।

Source- INDIA TV NEWS

लेकिन संविधान की भावना को भी चोट पहुंची है, संविधान की एक-एक धारा को भी चोट पहुंची है, जब राजनीतिक दल अपने आप में अपना लोकतांत्रिक कैरेक्टर खो देते हैं। जो दल स्वयं लोकतांत्रिक कैरेक्टर खो चुके हों, वो लोकतंत्र की रक्षा कैसे कर सकते हैं।आज तारीख़ 26-11 हैं, आज ही के दिन पाकिस्तानी आतंकवादियो ने मुंबई में हमला कर निर्दोष भारतीयों को मार दिया था।

इस दौरान 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले में शहीद हुए जवानों को प्रधानमंत्री मोदी ने नमन किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज 26/11 हमारे लिए एक ऐसा दुखद दिवस है, जब देश के दुश्मनों ने देश के भीतर आकर मुंबई में आतंकवादी घटना को अंजाम दिया। देश के वीर जवानों ने आतंकवादियों से लोहा लेते हुए अपना जीवन बलिदान कर दिया। आज उन बलिदानियों को भी नमन करता हूं।

संविधान दिवस के कार्यक्रम का कांग्रेस समेत कई विरोधी दलों ने बहिष्कार किया। जिस पर कांग्रेस ने कहा कि भाजपा संविधान का पालन नहीं कर रही है। इसलिए उन्होंने इस कार्यक्रम से दूर रहने का फैसला किया है। संविधान दिवस कार्यक्रम का बहिष्कार किए जाने को लेकर केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कांग्रेस पर तंज कसा।

केंद्रीय मंत्री ने तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने 50 साल से ज्यादा शासन किया और वो संविधान दिवस का बहिष्कार कर रही है। कांग्रेस के द्वारा इस कार्यक्रम का बहिष्कार करना सिद्ध करता है कि वह केवल नेहरू परिवार से जुड़े लोगों का ही सम्मान और जयंती मनाएगी। यह राजनीति से उठकर सोचने का दिवस है।

यह भी पढ़े: मुकुल रॉय, बाबुल सुप्रियो के बाद भाजपा के यह वरिष्ठ सांसद थाम सकते है TMC का दामन, ममता की तारीफो के पुल बांधे

यह भी देखे: