Second Wave: एम्स के निदेशक बोले, अब बच्चों के अंदर भविष्य में नहीं होगा गंभीर संक्रमण

Dr. Randeep Guleria
Image Credit: Ani/ Twitter

Second Wave: देश में कोरोना की दूसरी लहर के चलते बच्चों पर इसका कितना असर हुआ है. इसको लेकर एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया (Dr. Randeep Guleria) का कहना है कि वैश्विक या भारतीय किसी भी डेटा में बच्चों के अधिक प्रभावित होने का कोई अवलोकन नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि दूसरी लहर में भी जो बच्चे संक्रमित थे, उन्हें हल्की बीमारी या सह-रुग्णता थी. मुझे नहीं लगता कि हमें भविष्य में बच्चों के अंदर गंभीर संक्रमण होगा.

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने बताया है कि सरकार ने कोविशील्ड की 25 करोड़ खुराक और कोवैक्सिन की 19 करोड़ खुराक खरीदने का आदेश दिया है. सरकार ने जैविक ई के टीके की 30 करोड़ खुराक खरीदने का भी आदेश दिया है, जो कि सितंबर तक उपलब्ध हो जाएगा.

नीति आयोग के सदस्य ने कहा कि हमें कंपनी (जैविक ई) द्वारा उनके टीके (कॉर्बेवैक्स) की कीमत की घोषणा करने का इंतजार करना चाहिए. यह नई नीति के तहत कंपनी के साथ हमारी बातचीत पर निर्भर करेगा. जो वित्तीय सहायता दी गई है वह कीमत के हिस्से को पूरा करेगी.

वहीं स्वास्थ्य मंत्री के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल का कहना है कि पिछले 24 घंटे में 86,498 मामले सामने आए हैं. मामलों में लगभग 79% की गिरावट आई है. उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह कुल रिपोर्ट किए गए मामलों में 33% की गिरावट देखी गई थी. उन्होंने बताया कि पिछले एक महीने में 322 जिलों में दैनिक मामलों में आई गिरावट है.

ये भी पढ़ें: टीकाकरण कार्यक्रम को लेकर गाइडलाइन जारी, इन नियमों के तहत राज्यों को मिलेगी वैक्सीन