comscore
Monday, December 5, 2022
- विज्ञापन -

Aaj ka Panchang: शुक्रवार को माता के इस अवतार को पूजने से पहले जरूर देखें पंचांग, राहुकाल से बचें

Published Date:

Aaj ka Panchang: हिंदू धर्म में पंचांग का विशेष महत्व होता है. इसी के माध्यम से व्यक्ति के जीवन में शुभ और अशुभ समय का पता चलता है. पंचांग ज्योतिष शास्त्र के पांच अंगों से मिलकर बना होता है. जिसके द्वारा ही व्यक्ति को प्रतिदिन के मुहूर्त, राहुकाल, सूर्योदय, सूर्यास्त, तिथि.

नक्षत्र, चंद्रमा और सूर्य की स्थिति, वार, योग इत्यादि के बारे में जानकारी प्राप्त होती है. ऐसे में हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आज का पंचांग (Aaj ka panchang) बताने जा रहे हैं. तो चलिए जानते हैं….ऐसे में हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आज का पंचांग (Aaj ka panchang) बताने जा रहे हैं. तो चलिए जानते हैं….

यहां पढ़िए आज का पंचांग (Aaj ka panchang)….

दिनांक: 30 सितंबर 2022
दिन: शुक्रवार
ऋतु: शरद
अयन: दक्षिणयान
माह: अश्विन
पक्ष: शुक्ल
दिशासूल: पश्चिम
सूर्य: कन्या राशि
चंद्रमा: वृश्चिक राशि
पंचक: नहीं
भद्रा: (12:50 AM से 12:08 PM तक)
सूर्योदय: प्रात: 06:17 AM
सूर्यास्त: सायं 06:04 PM
आज का व्रत: शारदीय नवरात्रि
योग: प्रीति (10:33 PM तक)
करण: बव (12:52 PM तक)
तिथि: पंचमी (10:34 PM तक)
नक्षत्र: अनुराधा (04:19 AM तक)
शुभ मुहूर्त: अभिजीत मुहूर्त: (11:56 PM से 12:48 PM)
विजय मुहूर्त:(02:29 PM से 03:28 PM)
अमृत काल (06:19 AM से 10:13 AM)
गोधली मुहूर्त: (06:19 PM से 06:56 PM)
ब्रह्म मुहूर्त: (04:43 AM से 05:31 AM)
राहुकाल:(10:30 PM से 12:00 PM)
शक संवत: 1944
विक्रम संवत: 2079

उपाय: आज शुक्रवार के दिन देवी लक्ष्मी और संतोषी माता की आराधना करें. आज के दिन लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने के उपाय करें. आज के दिन श्री सूक्त का पाठ करें. आज दुर्गा स्तुति करने से भी आपको लाभ होगा.

जो लोग आज के दिन शुक्रवार के व्रत का उद्यापन करने वाले हैं, वे आज छोटी कन्याओं और महिलाओं को वैभव लक्ष्मी की किताबें और खीर का भोग प्रसाद के तौर पर बांटें. 

Anshika Johari
Anshika Joharihttps://hindi.thevocalnews.com/
अंशिका जौहरी The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि विशेषकर धर्म आधारित विषयों में है, और इस विषय पर वह काफी समय से लिखती आ रही हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी, बरेली से की है.
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Chanakya Niti: वास्तव में पाना चाहते हैं अपने जीवन में सफलता, तो हंस से सीखें ये कला

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य द्वारा व्यक्ति को जीवन में...