Navratri 2021: महाअष्टमी के दिन महागौरी की पूजा से मिलेंगे ये लाभ, पहने इस रंग के वस्त्र

Navratri 2021

Navratri 2021: महागौरी का वर्ण पूर्णतः गौर है। इस गौरता की उपमा शंख, चंद्र और कुंद के फूल से दी गई है। इनकी आयु आठ वर्ष की मानी गई है- ‘अष्टवर्षा भवेद् गौरी।’ इनके समस्त वस्त्र एवं आभूषण आदि भी श्वेत हैं। महागौरी की चार भुजाएँ हैं। इनका वाहन वृषभ है। इनके ऊपर के दाहिने हाथ में अभय मुद्रा और नीचे वाले दाहिने हाथ में त्रिशूल है। ऊपरवाले बाएँ हाथ में डमरू और नीचे के बाएँ हाथ में वर-मुद्रा हैं। इनकी मुद्रा अत्यंत शांत है।

धर्म गुरु त्रियोगी मिठ्ठू मिश्र बता रहे हैं महाष्टमी के दिन महागौरी को प्रसन्न करने के उपाय और पूजा विधि |

धर्म गुरु त्रियोगी मिठ्ठू मिश्र – 9335149778