comscore
Wednesday, February 1, 2023
- विज्ञापन -
HomeराशिफलSakat 2023: इस दिन रखा जाएगा सकट का व्रत, माताएं नोट कर लें पूजा सामग्री और विधि

Sakat 2023: इस दिन रखा जाएगा सकट का व्रत, माताएं नोट कर लें पूजा सामग्री और विधि

Published Date:

Sakat 2023: हिंदू धर्म में सकट का पर्व बेहद हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. सकट के व्रत में मुख्य तौर पर माताएं अपनी संतान की दीर्घायु के लिए व्रत आदि का पालन करती हैं.

सकट के व्रत को तिलकुट, संकष्टी चतुर्थी, माघ चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है. सकट का व्रत महिलाएं अपनी संतान के जीवन में तरक्की और सफलता की कामना हेतु रखती हैं.

ऐसे में इस बार साल 2023 में सकट का व्रत 10 जनवरी को रखा जाएगा, जिसका पराण 11 जनवरी को किया जाएगा. ऐसे में हमारे आज के इस लेख में हम आपको सकट व्रत की विधि और उपयुक्त सामग्री के बारे में बताने वाले हैं. चलिए जानते हैं….

Sakat chauth 2023
Image credit:- thevocalnewshindi

सकट व्रत की पूजा विधि

इस दिन प्रात काल में उठकर सबसे पहले व्रती को व्रत लेने का संकल्प लेना चाहिए.

इसके बाद आपको गणेश जी की प्रतिमा को एक चौकी पर रखना चाहिए, जिसके नीचे लाल या पीले रंग का कपड़ा बिछा दें.

गणेश जी की मूर्ति को स्थापित करने के बाद गंगाजल से उनका छिड़काव करें.

इसके बाद पूजा की थाली में सुपारी, पान, रोली, चावल, दुर्वा घास और फूल अवश्य रखें.

sakat vrat
Image credit:- thevocalnewshindi

इसके बाद गणेश जी को तिल के लड्डू, शकरकंद और गजक का भोग लगाना चाहिए.

सकट वाले दिन आप सकट के व्रत की कथा अवश्य पढ़ें और गणेश जी के आगे घी का दीया जलाएं.

इसके बाद अपनी संतान की कामना पूर्ति हेतु गणेश जी का ध्यान करें, और अपने व्रत का विधि विधान से पालन करें.

सकट का व्रत सूर्यास्त के बाद चंद्रमा निकलने के दौरान चंद्र देवता को अघर्य देने के बाद पूर्ण माना जाता है. इस दिन चंद्रमा को जल चढ़ाते समय उसमें रोली या चंदन अवश्य मिला लें.

सकट व्रत का शुभ समय

10 जनवरी 2023 12 बजकर 9 मिनट पर शुरू

11 जनवरी 2023 2 बजकर 31 मिनट समाप्ति

ये भी पढ़ें:- सकट के दिन क्यों की जाती है गणेश जी की आराधना? जानें

सकट व्रत का महत्व

सकट के व्रत को रखने मात्र से महिलाएं अपनी संतान के जीवन में खुशहाली लेकर आती है. इसके साथ ही संतान पर गणेश भगवान का आशीर्वाद बना रहता है, सकट व्रत को रखने से व्यक्ति के जीवन के सारे दुख दूर हो जाते हैं, और माता पार्वती की कृपा से आपकी संतान की जीवन में हमेशा सुख समृद्धि और शांति बनी रहती है.

Anshika Johari
Anshika Joharihttps://hindi.thevocalnews.com/
अंशिका जौहरी The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि विशेषकर धर्म आधारित विषयों में है, और इस विषय पर वह काफी समय से लिखती आ रही हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी, बरेली से की है.
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Budget 2023-24: कृषि क्षेत्र में होंगे ये नवाचार, किसानों को दी जाएगी डिजिटल ट्रेंनिग

Budget 2023-24: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपना 5वां और...

Hyundai Stargazer जल्द भारतीय मार्कट में होगी लॉन्च, तगड़े पॉवरट्रेन के साथ जानें कीमत

Hyundai की कई बेहतरीन गाड़ियां भारतीय मार्केट में मौजूद...

Mahindra Bolero Neo Limited Edition में है बेहद जबरदस्त फीचर्स, जानें कीमत

Mahindra की कई बेहतरीन गाड़ियां भारतीय मार्केट में मौजूद...

EPFO अकाउंट होल्डर के लिए खुशखबरी, सरकार लेने जा रही बड़ा फैसला

EPFO: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन पेंशन धारकों के लिये...