Pew Research Report: हिन्दू धर्म को मानने वाला हर दूसरा व्यक्ति भगवान शिव का अनन्य भक्त, जानिए रिपोर्ट में और क्या आया सामने….

Shiv Facts
Image credits: Pexels
Last updated:

सहिष्णुता और अलगाव के विषय पर अमेरिका के pew रिसर्च सेंटर ने मंगलवार को एक रिपोर्ट पेश की है. इस रिपोर्ट में उन्होंने भारत के 30,000 लोगों पर एक सर्वे किया . इस सर्वे में कुल 17 भाषाओं का चयन किया गया था. इसमें लोगों ने देश में विभिन्न धर्म को लेकर अपने मत और विचार व्यक्त किए हैं.

Pew रिसर्च की 16 पन्नों की ये रिसर्च रिपोर्ट भारत में इस शोध संस्थान द्वारा किए गए अब तक के सबसे बड़े सर्वेक्षण का परिणाम है. इस रिपोर्ट के लिए 30,000 भारतीयों से बात की गई. इनमें से 22,975 लोगों ने अपनी पहचान हिंदू धर्म को मानने वालों के रूप में की. 3,336 लोगों ने खुद को मुस्लिम बताया. सिख धर्म को मानने वाले लोगों की संख्या 1,782 थी. इसके अलावा ईसाइयों की संख्या 1,011, बौद्धों की 719 और जैन धर्म के लोगों की संख्या 109 थी. वहीं 68 ऐसे लोग भी थे, जो किसी भी धर्म को नहीं मानते थे. जानकारी के लिए बता दें कि RTI INTERNATIONAL नाम की एक संस्था के निर्देशन में इन लोगों के इंटर्व्यू लिए गए हैं.

Pew Research

Pew रिसर्च के मुताबिक, भारत एक ऐसा देश है जहां प्रतिदिन 60% से अधिक लोग अपने अपने धर्म के अनुसार पूजा-पाठ करते है. इन्हीं 30,000 लोगों में से 22,975 हिंदू धर्म के लोगों में से 64% लोगों का यह मानना है कि इस देश का सच्चा भारतीय वहीं है जो हिंदी जानता है. 59 फीसदी हिंदू हिंदी बोलने वालों को देश की राष्ट्रीय पहचान से जोड़ते हैं.

Pew की रिपोर्ट में इस बात की भी पुष्टि की गई है कि भारत में हिन्दू और मुस्लिम धर्म के लोग किसी दूसरे धर्म में शादी के लिए तैयार नही होते है. साथ ही विवाहित वयस्कों में, 99% हिंदू, 97% मुस्लिम और 95% ईसाई ने अपने ही धर्म में शादी की हुई है. 67% हिंदुओं, 80% मुसलमानों और 54% कॉलेज स्नातकों ने कहा कि अपने समुदाय की महिलाओं को दूसरे धर्म में शादी करने से रोकना बहुत महत्वपूर्ण है. महिलाओं या पुरुषों द्वारा अंतर्जातीय विवाह को रोकने के लिए भी काफी हद तक अनेक समूह सहमत थे. हिंदुओं की तरह, 77% मुसलमान भी कर्म में विश्वास करते हैं.

इसी रिपोर्ट के अनुसार 22,975 हिंदू धर्म को मानने वालों से यह सवाल भी किया गया कि वह किस देवी देवता को अधिक मानते है? इसमें लगभग 59% लोगों ने भगवान शिव को अपना आराध्य बताया, वहीं 37% को कृष्ण की भक्ति करना पसंद है. इसके अलावा हनुमान जी, विष्णु और भगवान गणेश जी को मानने वाले भी अन्य भक्त है. इस प्रकार इस रिपोर्ट से यह सुनिश्चित होता है कि भारत में अधिकांश हिंदू धर्म के व्यक्ति भगवान शिव की पूजा करते है.

यह भी पढ़ें: Amavasya Facts: देवकार्य अमावस्या पर कौन से कार्य माने गए हैं वर्जित और क्या करना चाहिए?

SHARE