Vastu tips: वास्तु के अनुसार कैसे बढ़ाएं वैवाहिक जीवन में रोमांस

वैवाहिक जीवन
Image credits: Pexels

किसी भी वैवाहिक जीवन को सुखद बनाने के लिए उसमे आपसी प्रेम, सम्मान और देखभाल होना जरूरी है. जो ज्यादातर कपल्स के जीवन को मजबूत बनाने में मदद करती है. अगर आप लोगों के बीच प्यार और एक-दूसरे के लिए सम्मान नहीं है तो रिश्तों में खटास आ जाती है और रिश्ते बिखरने लगते हैं.

हम अपने रिश्तों को बचाए और बनाए रखने के लिए बहुत से प्रयास करते हैं, लेकिन कई बार समय के साथ वैवाहिक संबंधों में दूरियां आने लगती हैं या कहें कि रोमांस की कमी होने लगती हैं. इसका मतलब यह नहीं है कि आपके पार्टनर आपसे प्यार नहीं करते हैं.

ऐसा दो ही कारणों से होता है पहला जब आप अधिक कार्य के चलते बिजी रहने लगे और दूसरा अचानक से आपके कंधों पर ज्यादा जिम्मेदारियां आ जाए. चलिए आज जानते है वास्तु के अनुसार कैसे हम अपने वैवाहिक जीवन में रोमांस बढ़ा सकते है.

वैवाहिक जीवन में ऐसे बढ़ाएं रोमांस

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए पार्टनर के बीच विचारों की स्पष्टता सबसे महत्वपूर्ण है. घर के उत्तर-पूर्व क्षेत्र में नीले या बैंगनी रंग के साथ अधिकतम खुले स्थान रखने से कपल्स के बीच विचारों का मेल बना रहता है. मास्टर बेडरूम में बिस्तर का सही स्थान या तो दक्षिण क्षेत्र या दक्षिण-पश्चिम में होनी चाहिए.

वास्तु के अनुसार, घर के दक्षिण-पश्चिम दिशा में मास्टर बेडरूम की उपस्थिति पुरुष शक्ति केंद्र को संतुलित करने में मदद करती है. साथ ही दोनों पार्टनर के बीच सकारात्मक खिंचाव और केमिस्ट्री को बनाए रखता है. पुरुष ऊर्जा का स्थान होने के कारण यह रिश्ते में स्थिरता को बढ़ावा देने में भी मदद करता है

दक्षिण-पश्चिम बेडरूम में गुलाबी या पिच के रंग पसंद किए जाते हैं. वैसे बेडरूम में गुलाबी या लाल रंग, जैसे- लाल बत्ती, लाल रजाई, ड्रैप आदि का उपयोग क्षणिक अवधि के लिए किया जा सकता है. वास्तु के अनुसार, प्यार भरा और मजबूत रिश्ता बने रहने के लिए पत्नी को अपने पति के बायीं ओर सोना चाहिए.

यह भी पढ़ें: बेडरूम में भूलकर भी न रखें… नहीं तो हो सकता है नुकसान