Vastu tips: घर में लकड़ी का सामान रखने से वास्तु पर क्या असर होता है?

वास्तु
credit: pixabay

आज के समय में हर व्यक्ति अपने घर को अच्छा देखना पसंद करता है और घर को सजाने के लिए वह कई बार लकड़ी की कारीगरी भी कराता है. वैसे भी हर घर में थोड़ा बहुत समान तो लकड़ी का होता ही है. लेकिन क्या आप जानते है घर में वास्तु के अनुसार क्या सामान होना चाहिए और क्या नहीं? आइए आज आपको बताते है की आपको अपने घर में लकड़ी का क्या समान रखना चाहिए और क्या नहीं.

वास्तु पर क्या असर होता है?

घर में गुलाब की लकड़ी का होना शुभ माना जाता है. शास्त्रों के अनुसार यदि घर में गुलाब की लकड़ी में गणेश जी, हनुमान जी या श्री कृष्ण की प्रतिमा बनी हो तो वह अधिक लाभ देती है. इस लकड़ी की प्रतिमा के लिए घर के पूजा ग्रह में न रखें इसको मात्र घर के रौनक बढ़ने के लिए रखा जाए.

बबूल, स्टील, प्लायवुड के सोफा सेट और पलंग से बेहतर शीशम की लकड़ी का सोफा और पलंग होता है. यह नहीं हो तो सागौन या सागवानी की लकड़ी बेहतर होती है. डाइनिंग सेट, साइन बोर्ड, कोनर्स, तिजोरियां, बक्से, अलमारियों से लेकर छोटे डिब्‍बे, ट्रे, पेन स्‍टैंड आदि सभी शीशम के हो तो बेहतर है. सभी में सुंदर नक्‍काशी होना चाहिए. पूजाघर भी सागौन या शीशम का हो तो बेहतर है. घर की सीढ़ियां या फर्श यदि लकड़ी की रखना चाहते हैं तो इन्हीं की रखें.

अन्‍य सजावटी वस्‍तुएं, जो भी आप रखना चाहते हैं वह कदंब की लकड़ी की हो. जैसे हाथी, हंस, बुद्ध की मूर्ति, ऊपर लटकाने के लिए डलिया, टोकरी, घोड़ा, पानदान, गुलदस्ता आदि. उल्लेखनीय है कि यदि ठोस चांदी का हाथी बनाएं तो लकड़ी का न रखें.

यह भी पढ़ें: Vastu Tips: घर में नींव डलवाते समय रखें वास्तु की इन बातों का ध्यान