3डी प्रिंटेड इस मास्क के संपर्क में आते ही निष्क्रिय हो जाएगा कोरोना वायरस, जानें

Representative image

कोरोना की दूसरी लहर देश और दुनिया में कहर बरपा रही है. वही पूरी दुनिया मास्क जैसे उपयोगी किट से अपनी रक्षा कर रही है. वहीं इस बीच बड़ी राहत की खबर है, जहां पुणे की एक स्‍टार्ट-अप फर्म ने खास तरह का मास्‍क तैयार किया है. जिसे पहनने के बाद कोरोना आपका बाल भी बांका नहीं कर पाएगा. दरअसल, दावा किया गया है कि इसके संपर्क में आते ही खतरनाक कोरोना वायरस इनैक्टिवेट यानी निष्क्रिय हो जाएगा.

किस चीज का हुआ है इस्‍तेमाल?

यही थ्रीडी प्रिंटिंग और दवाओं के सम्मिश्रण से तैयार किया गया मास्क है, जो अपने संपर्क में आने वाले विषाणुओं को निष्क्रिय कर देता है. विज्ञान और प्रोदयोगिकी विभाग (डीएसटी) ने जानकारी दी कि थिंक्र टेक्नोलॉजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की ओर से विकसित इन मास्कों पर विषाणु रोधक एजेंट का एक लेप होता है.

डीएसटी ने बताया कि परीक्षण करके दर्शाया गया कि यह लेप सार्स-कोव-2 को निष्क्रिय कर देता है. विभाग के अनुसार लेप में उपयोग लायी गयी सामग्री सोडियम ओलेफिन सल्फोनेट आधारित मिश्रण है, यह साबुन संबंधी एजेंट है. विभाग का कहना है कि जब वायरस इस लेप के संपर्क में आता है तो उसकी बाहरी झिल्ली नष्ट हो जाती है.

अन्य मास्क के मुक़ाबले यह है अधिक गुणवत्तापूर्ण

थिंक्र टेक्नॉलोजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक निदेशक शीतलकुमार जामबाद ने कहा, ‘हमने महसूस किया कि मास्क संक्रमण रोकने में सार्वभौमिक रूप से एक बड़ा औजार बन जाएगा. लेकिन, उस समय उपलब्ध और आम लोगों की पहुंच में आने वाले ज्यादातर मास्क घर में बने और अपेक्षाकृत कम गुणवत्ता के थे’ उन्होंने कहा, ‘ऐसे में उच्च गुणवत्ता के मास्क बनाने की जरूरत ने हमें प्रोजेक्‍ट को हाथ में लेने को प्रेरित किया. यह संक्रमण को फैलने से रोकने की एक बेहतर पहल थी.’

ये भी पढ़ें: शरीर की गंध से पता लगेगा कोरोना संक्रमण, वैज्ञानिकों ने विकसित किया उपकरण