comscore
Monday, December 5, 2022
- विज्ञापन -

दीपक की दरियादिली: बेईमान बल्लेबाज को दिया जीवनदान, दिलाई दीप्ति शर्मा की याद, देखें वीडियो

Published Date:

Deepak Chahar: भारत ने साउथ अफ्रीका (IND vs SA)  के खिलाफ तीसरे टी20 मैच में मांकडिंग की एक अजीबो-गरीब घटना देखने को मिली. इस घटना ने भारतीय महिला टीम की ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा की याद दिला दी. उन्होंने हाल ही में इंग्लैंड की बल्लेबाज को मांकडिंग के जरिए आउट किया था. इस मैच भारत को 49 रनों से कारारी हार का सामना करना पड़ा है.

दीपक का कारनामा

ये पूरी घटना 16वें ओवर में की है. जहां साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज ट्रिस्टन स्टब्स क्रीज पर मौजूद थे. इस दौरान भारत के लिए दीपक चाहर (Deepak Chahar) गेंदबाजी कर रहे थे.दीपक ने पास दक्षिण अफ्रीका के ट्रिस्टन स्टब्स को मांकडिंग के जरिए रन आउट करने का मौका था. जिसे दीपक ने छोड़ दिया और इसके बाद सोशल मीडिया पर दीपक की ये वीडियो वायरल हो गई.

दीपक ने दी सिर्फ वॉर्निंग

दीपक दक्षिण अफ्रीका की पारी में 16वां ओवर की पहली गेंद करने के लिए तैयार थे. लेकिन स्टब्स पहले ही क्रीज से बाहर निकल गए. ऐसे में चाहर गेंद करने की बजाय रुक गए और स्टब्स को रन आउट करने का मौका उनके पास था. लेकिन उन्होंने स्टब्स को सिर्फ वॉर्निंग देकर छोड़ दिया.

नियम हो चुका है लागू

आपको बता दें कि 1 अक्टूबर से नए नियम लागू किए गए हैं, जिसके तहत गेंदबाज नॉन स्ट्राइकर एंड पर बल्लेबाज को ‘मांकडिंग’ रन आउट कर सकता है. अब दीपक ने बड़ा दिल दिखाया और अच्छा काम किया.

मैच का पूरा हाल

साउथ अफ्रीका ने 49 रन से जीत लिया. इस मैच में साउथ अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 3 विकेट के नुकसान पर 227 रन बनाए. जिसके जबाव में भारतीय टीम निर्धारित 20 ओवर में 178 रन ही बना पाई

ये भी पढ़ें : IND Vs SA: सिराज की इस गलती पर रोहित ने जोड़े हाथ, रूसो ने कूट डाले 8 गगनचुंबी छ्क्के देखें VIDEO

Ashik Kumar
Ashik Kumarhttp://hindi.thevocalnews.com
आशिक कुमार The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं. उनकी रुचि खेल और मनोरंजन में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं. उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई MCU, नोएडा से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

Chanakya Niti: वास्तव में पाना चाहते हैं अपने जीवन में सफलता, तो हंस से सीखें ये कला

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य द्वारा व्यक्ति को जीवन में...