French Open: दिग्गज राफेल नडाल रिकॉर्ड 15 वीं बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचे, वर्ल्ड नंबर 1 जोकोविच भी आगे बढ़े

image credit: atp tour/twitter

French Open: क्लेकोर्ट के बादशाह राफेल नडाल ने सोमवार को फ्रेंच ओपन में 15 वीं बार क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. स्पेनिश खिलाड़ी ने इटली के युवा जानिक सिनर को 7-5, 6-3, 6-0 से हराकर बाहर का रास्ता दिखाया.

गत विजेता और 20 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन नडाल अपने रिकॉर्ड 14 वें रोलैंड गैरोस एकल और 21 वें ग्रैंडस्लैम खिताब से बस अब तीन जीत ही दूर हैं. उन्होंने सिनर के खिलाफ मुकाबले में पेरिस में लगातार 35 सेट जीतने का अद्भुत रिकॉर्ड कायम किया है.

विश्व के 19वें नंबर के सिनर को मात्र 19 साल की उम्र में टेनिस में अगला नया उभरता सितारा देखा जा रहा है. शुरुआती सेट में 5-3 से आगे बढ़ने के बाद इटालियन खिलाड़ी फिलिप चैटियर कोर्ट पर लड़खड़ा गया और फिर मुकाबले में वापसी नहीं कर पाया.

स्पेनिश दिग्गज को सेमीफाइनल में पहुंचने से पहले अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्ट्जमैन का सामना करना है जिसे टूर्नामेंट में तीसरी वरीयता प्राप्त नडाल ने फ्रेंच ओपन में इससे पहले 4 मुकाबले हराए हैं.

एक धमाकेदार जीत दर्ज करने के बाद नडाल ने सिनर की तारीफ करते हुए कहा, “मैं एक बहुत अच्छे खिलाड़ी के खिलाफ खेला जिसका भविष्य बहुत अच्छा है और मैं इस जीत से बहुत खुश हूं.

उन्होंने आगे कहा, “मैंने पहले दो गेम अच्छा खेलना शुरू किया और फिर मैंने कुछ गेम के लिए बहुत रक्षात्मक खेला और उसे कोर्ट में कदम रखने और अपने शॉट्स खेलने का मौका दिया. उसके बाद मैच में काफी बदलाव आया. “

जोकोविच एक मुश्किल मुकाबले से आगे बढ़े

इससे पहले वर्ल्ड नंबर 1 सर्बिया के नोवाक जोकोविच एक कड़े मुकाबले में वाकओवर मिलते ही 15 वीं बार अंतिम 8 में जगह बनाई. उन्होंने इटली के 19 वर्षीय लोरेंजो मुसेट्टी को हराया, जो फ्रेंच ओपन के चौथे दौर में हार से पहले दो गेम में चोटिल हो गए थे.

इस मैच में चौथे सेट के बाद जब स्कोर 6-7 (7), 6-7 (2), 6-1, 6-0, था तब मुसेट्टी ने मेडिकल टाइमआउट लिया, कुछ समय के लिए कोर्ट छोड़ दिया, और अगले चार गेम हारने के बाद हार मान ली.

एक शानदार खेल दिखाने के बावजूद बदकिस्मती से मुसेट्टी को कोर्ट छोड़ना पड़ा और सर्बियाई खिलाड़ी ने 15वीं बार रोलैंड गैरोस क्वार्टरफाइनल में प्रवेश किया. वह अंतिम 8 के मैच में एक और इटली के खिलाड़ी, 9 वीं वरीयता प्राप्त माटेओ बेरेटिनी से खेलेंगे, जो रोजर फेडरर के हटने के बाद आगे बढ़े.