IPL: फ्रेंचाइजी को फायदा, अब मेगा नीलामी के लिए 3 के जगह 4 खिलाड़ी होंगे रिटेन: रिपोर्ट

image credit: ipl/twitter

IPL: आईपीएल 2021 का शेष भाग अक्टूबर-नवम्बर में यूएई में खेला जाना है. इसके लिए दुनिया भर के क्रिकेट प्रशंसक बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. बहुप्रतिष्ठित लीग का यह 14 वां सीजन है और अगले सीजन के लिए बड़ी नीलामी होनी तय है. इस साल के अंत में होने जा रही मेगा नीलामी के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के शीर्ष अधिकारी तैयारियों में व्यस्त हैं.

प्रत्येक फ्रैंचाइज़ी के लिए ऑक्शन का समय काफी तनावपूर्ण होता है जो अक्सर उनकी रातों की नींद हराम कर देती है. वही पर यह तब बढ़ जाता है जब एक बड़ी निलामी आयोजित हो जहाँ अधिकांश खिलाड़ियों को टीम में खरीदने का विकल्प हो.

एक बड़ी नीलामी उन फ्रेंचाइजियों के लिए फायदेमंद होता है जो एक नई टीम खड़ी करना चाहते हैं. अगले सीजन के लिए 2 नई टीमों के जुड़ने की चल रही संभावनाओं के बीच एक और बड़ी रिपोर्ट सामने आई है जो इस मेगा नीलामी और भी दिलचस्प बनाएगी.

दरअसल, टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, अगले साल की मेगा नीलामी से पहले, फ्रेंचाइजी को अधिकतम चार खिलाड़ियों को रिटेन करने की अनुमति होगी. शर्तों के मुताबिक टीम प्रबंधन या तो तीन भारतीय खिलाड़ियों और एक विदेशी खिलाड़ी या दो भारतीय खिलाड़ियों और दो विदेशी खिलाड़ियों को रिटेन कर सकता है.

BCCI बढ़ाएगा पर्स

रिपोर्ट के मुताबिक नीलामी में जाने से पहले फ्रेंचाइजी इन चार खिलाड़ियों के वेतन में कटौती करेगी. वही दो नई टीमों के आने के बाद, बीसीसीआई पर्स को 85 करोड़ से बढ़ाकर 90 करोड़ कर देगा, जिसका मतलब है कि बीसीसीआई द्वारा सभी दस फ्रेंचाइजियों के बजट में अतिरिक्त 50 करोड़ जोड़े जाएंगे.

यदि कोई फ्रैंचाइज़ी तीन खिलाड़ियों को रिटेन करती है, तो तीनों को क्रमशः 15 करोड़, 11 करोड़ और 7 करोड़ रुपये के वेतन निर्धारित करने होंगे. वही अगर किसी ने दो खिलाड़ियों को रिटेन किया, तो 12.5 करोड़ और 8.5 करोड़ रुपये देने होंगे. जबकि सिर्फ 1 खिलाड़ी को बनाए रखने के मामले में फ्रेंचाइजी उसे 12.5 करोड़ रुपये अदा करेगी.

‘प्रमुख भारतीय क्रिकेटरों के नाम होंगे ऑक्शन पूल में शामिल’

TOI से बात करते हुए घटनाक्रम के जानकारों ने बताया कि “कुछ खिलाड़ियों को रिटेन न करने का विचार पसंद आ सकता है और वे नीलामी पूल में जाना चाहेंगे. ऐसा इसलिए है क्योंकि वेतन पर्स में वृद्धि हुई है और दो नई टीमों को जोड़ा जा रहा है. इसलिए प्रतिभा को अपने साथ जोड़ने की जल्दी होगी. यह उम्मीद कर सकते हैं कि कुछ प्रमुख भारतीय क्रिकेटर भी नीलामी के लिए अपना नाम आगे बढ़ाएंगे”

बता दें कि इससे पहले मेगा नीलामी आईपीएल 2021 से पहले आयोजित की जानी थी, लेकिन महामारी के कारण फ्रेंचाइजी को नुकसान होने और आईपीएल 2020 और 2021 के बीच कम समय रहने के कारण मेगा नीलामी को एक वर्ष के लिए स्थगित कर दिया गया था.

मेगा नीलामी इस साल दिसंबर में होने की उम्मीद है, जबकि दो नई फ्रेंचाइजियों को अक्टूबर तक जुड़ने की सम्भावना है. नई आईपीएल टीमों को खरीदने में दिलचस्पी दिखाने वालों में कोलकाता स्थित आरपी-संजीव गोयनका ग्रुप; अहमदाबाद में स्थित अदानी समूह; हैदराबाद स्थित अरबिंदो फार्मा लिमिटेड और गुजरात में स्थित टोरेंट ग्रुप शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: बैट को पड़ोसी की पत्नी बताकर ट्रोल हुए दिनेश कार्तिक, कहा- ‘पत्नी और मां से मिली डांट’