हटाये गये अलिम्पिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा के कोच, AFI ने कहा दो नये विदेशी कोच की नियुक्ति होगी

seniour journalist amit chaturvedi facebook

एएफआई ने सोमवार को घोषणा की कि उसने भाला फेंक के राष्ट्रीय कोच उवे हॉन से अनुबंध तोड़ लिया है। इसका वजह एएफआई बताते है कि वह कोच के प्रदर्शन से खुश नहीं था और अब जल्द ही दो नए विदेशी कोच नियुक्त करेगा।

भारत के नए स्टार नीरज चौपड़ा की सफलता के पीछे उनके कोच उवे हॉन का बड़ा योगदान माना जाता था। और अब ओलंपिक की समाप्ति के तुरंत बाद भारतीय एथलेटिक्स महासंघ यानी एएफआई का नीरज के कोच उवे हॉन से नाता तोड़ना क्या संकेत देता हैं। हालांकि 59 साल के उवे हॉन का कॉन्ट्रेक्ट टोक्यो ओलिंपिक तक ही था।

इस ओलंपिक प्रदर्शन के बाद पद को लेकर कई परिवर्तन हुई है। एथलेटिक्स फेडरेशन के मुखिया आदिल सुमारिवाला बताते हैं कि उवे हॉन की जगह हम दो नए कोच ला रहे हैं। वहीं शॉटपुट खिलाड़ी तेजिंदरपाल सिंह तूर के लिए भी एक विदेश कोच ढूंढ रहे हैं। साथ ही श्रीशंकर के कोच को हटाने का चर्चा भी चल रहा है। श्रीशंकर ने हालांकि टोक्यो खेलों के बाद अपना सबसे खराब प्रदर्शन किया था।

उवे हॉन एक एथलेटिक्स ट्रैक और फील्ड एथलीट हुआ करते थे जो जर्मनी का प्रतिनिधित्व करते थे। उनका नाम खेल के इतिहास में 100 मीटर से अधिक का निशान फेंकने वाले एकमात्र प्रतियोगी में भी हैं।

ये भी पढ़ें: Neeraj Chopra का फूटा गुस्सा, बोले-‘मेरे कमेंट्स को अपने गंदे एजेंडे का माध्यम न बनाएं’

SHARE