ChatGPT: धुंआधार तरीके से चल रहा चैटजीपीटी! देखते ही देखते 100 करोड़ यूजर्स पार, जानें डिटेल्स

ChatGPT

ChatGPT

ChatGPT: गूगल की तरह चैटजीपीटी की भी ग्रोथ काफी तेजी से रही है. इसके AI टूल ने हर सेक्टर में अपनी पैठ बना ली है. सिर्फ 2 महीने की ग्रोथ इतनी जबरदस्त है कि कोई भी देख कर हैरान रह जाता है. लांच होने के बाद से ही लोग इसका इस्तेमाल करने लगे थे.

धीरे-धीरे चैटजीपीटी लोगों की पहली पसंद बनता जा रहा है. दुनिया भर में अब चैट जीपीटी के एक्टिव यूजर्स की संख्या करोड़ों में हो गई है. इसके कुछ फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं. कुछ सेक्टर्स के लिए ये बहुत अच्छा है तो कुछ के लिए काफी खतरनाक है. जिस सेक्टर में करोड़ों की संख्या में कर्मचारी काम करते हैं उनके लिए ये टेक्नोलॉजी अगर उनकी जगह ले लेगी तो कर्मचारियों को काफी नुक्सान होगा.

ChatGPT से क्यों डर रहे हैं लोग?

आपको बता दें जब कंप्यूटर और लैपटॉप आए थे तब भले ही कंपनियों का काम आसान हो गया था लेकिन कई लोगों की नौकरी खतरे में आ गई थी. मैनुअल जो काम कर्मचारी करता है वो ही एक मशीन लाखों का काम कर सकती है. इसी तरह जीपीटी भी AI की मदद से लाखों लोगों के दिमाग का काम कर सकती है. एक छोटे से कमांड भी जरूरत होती है. ये कंटेंट राइटिंग से लेकर वीडियो मेंकिंग और कंसल्टेशन सेक्टर में काफी अच्छा काम करता है.

ChatGPT

चैट जीपीटी पर यूजर्स की संख्या लॉन्चिंग के 2 महीने में ही तकरीबन 100 मिलियन पहुंच चुकी है और यह आंकड़ा कोई छोटा मोटा नहीं है बल्कि इसने सभी टेक कंपनियों को हिला कर रख दिया है. इसकी लोकप्रियता के साथ-साथ इस एआई टूल ने एक्टिव यूजर्स की संख्या काफी बढ़ा दी है. यह सवाल पूछने पर आपको लिंक नहीं प्रोवाइड करवा था बल्कि उस सवाल का सही जवाब देता है और ज्यादातर समय में यह जवाब बिल्कुल सही होते हैं.

इसे भी पढ़ें: iPhone Auction: 15 साल पुराने आईफोन की हो रही नीलामी! आखिर क्यों हो गया ये स्पेशल फोन? जानें डिटेल्स

Exit mobile version