Chinese Mobile Ban: सस्ते चाइनीज मोबाइल बैन होने की खबरों के बीच चीन ने दिया भारत को ये जबाव, पढ़ें

Ban Chinese Mobile

Chinese Mobile Ban: देश में चाइनीज मोबाइल  (Chinese Mobile)  फोन जब से आए हैं उसके बाद मोबाइल इंडस्ट्री में बड़ा बदलाब आया है. चाइनीज मोबाइल आने के कारण ग्राहकों को तो खूब फायदा हुआ है लेकिन भारतीय मोबाइल निर्माता कंपनियों को घाटा हुआ है. जिसके कारण भारत सरकार ने एक सख्त कदम उठा सकती है. प्राप्त जानकारी के अनुसार घरेलू कंपनियों को सपोर्ट करने और सस्ते चीनी मोबाइल कंपनियों को झटका देने के लिए 150 डॉलर या उससे सस्ते यानी 12000 रुपये या उससे कम कीमत वाले चाइनीज मोबाइल फोन पर प्रतिबंध लगा सकती है.

चीन ने भारत से किया ये आग्रह

चीनी विदेश मंत्रालय (Chinese Foreign Ministry) ने भारत से ‘खुलेपन और सहयोग के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को ईमानदारी से पूरा करने’ का आग्रह किया है.और कहा है कि चीनी कंपनियों के वैध हितों और अधिकारों की रक्षा करने में चीन दृढ़ता से उनका समर्थन करेगा.

Poco
credit : po.co

कम हुई लावा और माइक्रोमैक्स की सेल

लावा और माइक्रोमैक्स जैसी भारतीय फर्मों ने एक दशक पहले लॉन्च होने के बाद तेजी से लोकप्रियता हासिल की, लेकिन तब से चीनी खिलाडिय़ों से कड़ी प्रतिस्पर्धा के कारण बाजार हिस्सेदारी खो दी है. चीनी फर्मों के पास एंट्री-लेवल स्मार्टफोन्स का एक बड़ा हिस्सा है जो भारत में पारंपरिक उपकरणों से दूर जाने वाले यूजर्स के बीच काफी लोकप्रिय है.

जैसा कि आपको याद होगा कि भारत ने 300 से अधिक चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने में सुरक्षा के कारण प्रतिबंध लगा दिया था. जिसके बाद सरकार ने भारत में निवेश करने वाली चीनी कंपनियों के लिए भी नियम कड़े कर दिए हैं. शाओमी और प्रतिद्वंद्वी वीवो की भारत की वित्तीय अपराध से लडऩे वाली एजेंसी द्वारा कथित इललीगल रमिटेंस और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए जांच की जा रही है. इन दोनों कंपनियों पर टैक्स बचाकर चीन भेजने का आरोप है.

ये भी पढ़ें : Tech News: टेक कंपनियों की इस मनमानी के खिलाफ सख्त फैसला ले सकती है भारत सरकार, जानें क्या है पूरा मामला