क्या रूस को आंतकवादी देश साबित करेगा अमेरिका? इस पर व्हाइट हाउस ने कही ये गंभीर बात

Russia-Ukraine War
image credits: Unsplash

Russia-Ukraine War: रूस और यूक्रेन के बीच लंबे समय तक चले युद्ध के बाद से अमेरिका और रूस के बीच भी काफी तनाव चल रहा है. अमेरिका ने रूस पर कई चीजों पर प्रतिबंध लगा रखा है जिसका कारण रूस भी निगाहें भी टेढ़ी हैं. वहीं अब ऐसे यूक्रेन ने अमेरिका से मांग की थी कि रूस को आतंकवादी देश घोषित किया जाए इस पर से अमेरिका ने साफ इंकार कर दिया है.

इस बात पर व्हाइट हाउस का कहना है कि ऐसा करने से सबके लिए बुरे परिणाम साबित हो सकते हैं. साथ ही यह भी कहना है कि यूक्रेन के क्षेत्रों में सहायता पहुंचाने की क्षमता पर भी इसका असर पड़ सकता है.

‘आतंकवाद का पदनाम देना मजबूत रास्ता नहीं’

दरअसल, इस मुद्दे को लेकर मंगलवार को एक प्रेस कांफ्रेंस हुई जिसमें व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव करीन जीन-पियरे ने बताया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति और हमारा मानना है कि रूस को जवाबदेह ठहराने के लिए आतंकवाद का पदनाम देना सबसे प्रभावी या सबसे मजबूत रास्ता नहीं है.  

इसके अलावा व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव का मानना है कि ऐसा करने से रूस काला सागर बंदरगाह सौदे को भी खतरे में डाल सकता है, जिसके कारण दुनिया में एक मिलियन टन से अधिक यूक्रेनी खाद्य निर्यात पहुंच रहा है. हालांकि आखिर में उन्होंने कहा है कि रूसी राष्ट्रपति को जवाबदेह ठहराने के अब तक के सभी प्रयासों को कम करके आंका जाएगा.

ये भी पढ़ें: श्रीलंका की तरह इराक की हालत खराब, राष्ट्रपति भवन पर लोगों ने किया कब्जा, 20 की मौत