Equity Mutual Funds: ऐसे लगाएं म्‍यूचुअल फंड में पैसा,महज 10 साल में कमा सकते हैं 1 करोड़ रुपये की रकम

up roadways vacancy
Source- PixaBay

Equity Mutual Funds: म्‍यूचुअल फंड SIP में निवेशकों का भरोसा लगातार मजबूत बना हुआा है।SIP की खासियत यह है कि इसमें 100 रुपये मंथली से भी निवेश शुरू कर सकते हैं। आपको एकमुश्‍त बड़ा अमाउंट निवेश की जरूरत नहीं होती है और इस पर रिटर्न भी इक्विटी जैसा मिलता है। लंबी अवधि तक SIP बनाए रखने पर कम्‍पाउंडिंग का जबरदस्‍त फायदा होता है।आप छोटी-मोटी बचत को अगर हर महीने निवेश की आदत बना लें, तो आप अगले कुछ सालों में करोड़ों रुपये का फंड आसानी से बना सकते हैं।अगर आप अपनी पहली सैलरी से ही नियमित रूप से कुछ पैसा बचाएं, तो आप आसानी से करोड़पति बन सकते हैं। निवेश पर सबसे अधिक रिटर्न देने की क्षमता इक्विटी में होती है। लेकिन शेयर बाजारों में निवेश जोखिम भरा होता है। ऐसे में आप म्यूचुअल फंड की एसआईपी (SIP) में पैसा लगा सकते हैं। यहां आप थोड़ा-थोड़ा निवेश करके करोड़पति बन सकते हैं। आज हम आपको ऐसी रणनीति बताएंगे, जिससे आप 10 साल में एक करोड़ रुपये का फंड तैयार कर सकते हो।

Equity Mutual Funds है बेहतर विकल्प

इक्विटी म्यूचुअल फंड (Equity Mutual Funds) निवेश का एक अच्छा विकल्प है। इक्विटी म्यूचुअल फंड में आप एसआईपी (SIP) के जरिए अपनी छोटी-छोटी बचत निवेश कर सकते हैं। यह बचत आपको करोड़पति बना सकती है। जो निवेशक एक बड़ा फंड जमा करना चाहते हैं और उनके पास निवेश के लिए एकमुश्त राशि नहीं है, तो वे एसआईपी के जरिए निवेश कर सकते हैं। दस साल के लिए म्यूचुअल फंड में एसआईपी आपको कम से कम 12 फीसद सालाना ब्याज दे सकती है।

ऐसे कमाएं 1 करोड़ से ज्यादा की रकम

मान लीजिए आप रोज 700 रुपये की सेविंग करते हैं, तो हर महीने आपकी बचत 21000 रुपये हो गई।अगर आप हर महीने 21000 रुपये की SIP करते हैं और सालाना रिटर्न 12 फीसदी रहता है, तो अगले 10 साल में करीब 65,41,588 लाख रुपये का निवेश करके आप 1,03,76,144 करोड़ रुपये का फंड आसानी से बना सकते हैं।इस फंड में आपकी कुल रिटर्न राशि 38,34,556 रुपये होगी।इसके लिए आपको एन्युअल स्टेप-अप 20 फीसदी रखना होगा।

Indian Currency
Source- PixaBay

क्या है एन्युअल स्टेप-अप

हैं। स्टेप-अप एसआईपी का एक ऐसा फीचर है, जो एसआईपी में आपके योगदान को एक विशेष अवधि के बाद बढ़ा देता है। आप हर साल अपनी एसआईपी की राशि में कुछ फीसदी की बढ़ोतरी कर सकते हैं। इस तरह आप अपनी आय में सालाना इंक्रीमेंट और अपने वित्तीय गोल के अनुसार एसआईपी की राशि में बढ़ोतरी कर सकते हैं।

ये भी पढ़े: Business Idea : मात्र 2 लाख रुपए लगाकर इस काम को करें शुरू,1 लाख रुपए महीने की होगी कमाई