LIC: अगर सरेंडर करना चाहते हैं अपनी पॉलिसी,तो पढ़ लें ये जानकारी, नहीं होगा नुकसान

LIC
Image Credits: Flickr

LIC : जीवन बीमा निगम (LIC) की पॉलिसी आप अगर सरेंडर करना चाहते हैं तो ये खबर आपके काम की है. आपको बता दें कि किसी भी पॉलिसी को कम से कम तीन वर्षों के लिए प्रीमियम का भुगतान करने के बाद सरेंडर किया जा सकता है. यदि पॉलिसीधारक तीन साल से पहले पॉलिसी को सरेंडर कर देता है, तो कोई सरेंडर वैल्यू नहीं होगी. हालांकि, पॉलिसी के सरेंडर को सही नहीं माना जाता है. लेकिन आप कभी पॉलिसी सरेंडर करना चाहें तो उसका क्या तरीका होगा चलिए आज हम आपको बताते हैं.

क्या होती है सरेंडर वैल्यू

यह वह वैल्यू होती है जो आपको देय राशि है. यदि आप पॉलिसी को बंद करने और एलआईसी से इसे रिडीम करने का निर्णय लेते हैं तो जो वैल्यू आपको मिलेगी उसे सरेंडर वैल्यू कहा जाएगा. एलआईसी को पूरे तीन साल के प्रीमियम का भुगतान करने के बाद ही सरेंडर वैल्यू दी जाती है.इसके अलावा, यदि यह एक पार्टिसिपेटिंग पॉलिसी है तो नियमों के अनुसार बोनस इसके साथ एड कर दिया जाता है.

Insurance policy on a desk.
Source- Pixabay

यदि आपने 3 साल के प्रीमियम का भुगतान किया है, तो आप सरेंडर वैल्यू प्राप्त करने के पात्र हैं, जो आम तौर पर भुगतान किए गए प्रीमियम का 30 फीसदी है, पहले वर्ष के प्रीमियम को छोड़कर. इसमें राइडर्स के लिए भुगतान किया गया कोई अतिरिक्त प्रीमियम, टैक्स और एलआईसी से प्राप्त होने वाले किसी भी बोनस को भी शामिल नहीं किया गया है.

अधिक होगा प्रीमियम यदि आप इस स्तर पर किसी अन्य बीमा को लेने का निर्णय लेते हैं, तो फिर बीमा आपको बहुत अधिक प्रीमियम पर उपलब्ध होगा, क्योंकि आपकी उम्र पहले की पॉलिसी लेने के बाद अधिक हो गई होगी. यदि आपने 3 साल के प्रीमियम का भुगतान किया है, तो आप सरेंडर वैल्यू प्राप्त करने के पात्र हैं, जो आम तौर पर भुगतान किए गए प्रीमियम का 30 फीसदी है, पहले वर्ष के प्रीमियम को छोड़कर. इसमें राइडर्स के लिए भुगतान किया गया कोई अतिरिक्त प्रीमियम, टैक्स और एलआईसी से प्राप्त होने वाले किसी भी बोनस को भी शामिल नहीं किया गया है.

इसे एक उदाहरण से समझिए उदाहरण के लिए आपका सालाना प्रीमियम 50,000 रुपये है. और आपने चार साल के लिए प्रीमियम का भुगतान किया है, फिर कुल भुगतान किया गया प्रीमियम होगा 2 लाख रुपये. प्रथम वर्ष को छोड़कर प्रीमियम होगा 1.5 लाख रु. सरेंडर वैल्यू भुगतान किए गए प्रीमियम का 30% होगी. इसका अर्थ है कि 1.5 लाख रुपये का 30% आपको मिलेगा. यह राशि 45,000 रुपये है. साथ ही, याद रखें कि इस गारंटीड सरेंडर वैल्यू में पहले से अर्जित बोनस को नहीं जोड़ा जाएगा.

कैसे करें सरेंडर अपनी मौजूदा पॉलिसी को सरेंडर करने के लिए आपको एलआईसी सरेंडर फॉर्म और एनईएफटी फॉर्म भरना होगा. इन फॉर्मों के साथ आपको अपने पैन कार्ड की कॉपी और पॉलिसी के मूल दस्तावेज देने होंगे. एलआईसी को एक हस्तलिखित पत्र लिखें जिसमें बताया गया हो कि आप इसे बंद क्यों करना चाहते हैं. सभी दस्तावेज अटैच करें और इसे रजिस्टर्ड डाक या कुरियर के माध्यम से भेजें. रिक्वेस्ट प्रोसेस होने के बाद आपकी राशि दे दी जाएगी.
ये जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करें.

ये भी पढ़ें : IRCTC ने यात्रियों को किया सावधान: रिफंड के चक्कर में ना करें ये गलती, नहीं तो हो जाएगा बड़ा नुकसान

Somvar ke upay: शिवजी के इन अवतारों के दर्शन मात्र से दूर हो जाएंगी आपकी सारी परेशानियां Sawan 2022: सावन में शिव जी को अर्पित करें ये चीजें, बरसेगी कृपा… बारिश के दिनों में रोपें ये 6 पौधे, हर काम में होगा लाभ… Vastu Tips: वास्तु की ये 5 चीजें कराएगी धन का लाभ Amarnath Yatra 2022: अमरनाथ यात्रा पर जाते समय ध्यान रखें ये जरूरी बातें… KGF Chapter 2 to RRR: इन पैन इंडिया फिल्मों का बजट आपको हैरान कर देगा Shubhi Sharma: जानिए ‘भोजपुरी एक्ट्रेस’ की नेट वर्थ और उनकी लाइफ से जुड़ी अनसुनी बातें Alia Bhatt, Ranbir Kapoor Wedding Gifts – महंगी डायमंड रिंग से लेकर 2.5 करोड़ रुपये की घड़ी Pooja Hooda: ‘हरयाणवी एक्ट्रेस’ पूजा हुड्डा की नेट वर्थ आप सभी को हिला कर रख देगी Alia Bhatt, Ranbir Kapoor wedding: पावर कपल के नए रिश्तेदारों की लिस्ट – Sara Ali Khan से Kareena Kapoor तक