comscore
Wednesday, November 30, 2022
- विज्ञापन -

PPF vs ELSS: नौकरीपेशा लोगों के लिए ये स्कीम है सबसे बेहतर, जानें कहां निवेश करें अपना पैसा

Published Date:

PPF vs ELSS: अगर आप नौकरीपेशा व्यक्ति हैं और पैसे जोड़ने के लिए कोई अच्छी सी स्कीम ढूंढ़ रहे हैं।तो आपके लिए सबसे बेहतर ऑप्शन स्माल सेविंग स्कीम हैं लेकिन उनमें से कुछ ही स्कीम्स ऐसी हैं जो टैक्स में छूट प्रदान करती हैं।अगर आप नौकरीपेशा व्यक्ति हैं और आपकी सैलरी टैक्स स्लैब के अंदर आती हैं तो टैक्स सेविंग स्कीम (Tax Saving Scheme) में निवेश करके आप टैक्स देने से बच सकते हैं।

भारतीय आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत कई स्कीम में आपको निवेश करने के ऑप्शन्स मिलते हैं।जिनमें NPS,PPF,ELSS,TAX SAVING FD आदि प्रमुख हैं। अगर आप पीपीएफ और ईएलएसएस में निवेश करने की सोच रहें हैं तो आपको बता दें कि इन दोनो स्कीम्स में आपको 80 C के तहत 1.5 लाख रुपये के निवेश पर छूट मिलती है। लेकिन फिर भी दोनो स्कीम्स में काफी अंतर हैं ।आज हम इस लेख में आपको बताएंगे कि इन दोनों में आपके लिए कौन सी स्कीम ज्यादा बेहतर है ।

Equity Linked Savings Scheme

इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्‍कीम (Equity Linked Savings Scheme) एक फ्लेक्सी कैप फंड के सामान ही है।इस स्कीम की एक बेहद खास बात से यह है कि इसका लॉक इन पीरियड केवल 3 साल का ही है। ऐसे में यह बाकी टैक्स सेविंग स्कीम के मुकाबले बहुत समय के लिए आपके पैसों को लॉगइन करके रख सकता हैं। इस स्कीम में निवेश करने के लिए आपको एकमुश्त निवेश या SIP दोनों तरीके के ऑप्शन्स मिलते हैं।आपको बता दें कि ELSS एक म्यूचुअल फंड स्कीम है जिसमें निवेश करना बाजार जोखिमों के अधीन हैं। ऐसे में आप अगर  मार्केट जोखिमों को उठाने के लिए तैयार हैं तो इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं।

PPF vs ELSS
Image credit:- thevocalnewshindi

Public Provident Fund

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (Public Provident Fund) एक सेफ इन्वेस्टमेंट स्कीम है जिसमें निवेश करने पर आपको मार्केट जोखिम का डर नहीं होता है। इस स्कीम में आपको निवेश करने पर इनकम टैक्स की धारा 80सी के तहत 1.5 लाख रुपये के निवेश पर छूट मिलती है। इस स्कीम का लॉक इन पीरियड 15 साल का है जिसमें आपको 7.1% का रिटर्न मिलता है। इस स्कीम में  मैच्योरिटी राशि पर भी टैक्स नहीं देना पड़ता हैं. आप एक साल में 500 रुपये से लेकर 1.5 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं।

PPF vs ELSS

इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम और पब्लिक प्रोविडेंट फंड दोनों ही निवेशकों को 80सी के तहत छूट का लाभ देते हैं, लेकिन ELSS पर आपको निवेश करके ज्यादा रिटर्न मिलता है। ELSS एक म्यूचुअल फंड स्कीम है जिसमें आपको 12% से 15% तक का रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।वहीं PPF में यह 7.1% का है. ELSS स्कीम मार्केट जोखिमों पर आधारित है वहीं पीपीएफ सेफ इन्वेस्टमेंट ऑप्शन है।अगर आप मार्केट जोखिम के साथ पैसे निवेश नहीं करना चाहते हैं तो पीपीएफ आपके लिए बेहतर ऑप्शन साबित हो सकता है।

ये भी पढ़ें: Mutual Fund SIP: म्युचुअल फंड में ऐसे करें निवेश अपना पैसा,लगाएं 10 हजार रुपये और पाएं 6.44 लाख की मोटी रकम

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

IQOO Z6 Pro Offer: 64MP कैमरे वाले 5G फोन पर मिल रही बम्पर छूट, जानें कीमत

IQOO Z6 Pro Offer: स्मार्टफोन की जबरदस्त रेंज इन...

WhatsApp Smart Tips: बिना किसी को पता लगे अनचाहे लोगों को करें व्हाट्सऐप पर ब्लॉक, जानें कैसे

WhatsApp Smart Tips: व्हाट्सऐप बेहतरीन मैसेजिंग एप्लीकेशन है. इसका...

Vastu plants: घर के अंदर लगा लें केवल ये 2 पौधे, जीवन में कभी नहीं छाएगी कंगाली

Vastu plants: वास्तु शास्त्र में हमारे जीवन को बेहतर...