comscore
Friday, December 9, 2022
- विज्ञापन -

Solar Pump Subsidy: अब सोलर पंप से सिंचाई के अलावा कमाई भी कर सकते हैं किसान,यहां जाने पूरी डिटेल

Published Date:

Solar Pump Subsidy: खेती करने के लिए उपयुक्त जमीन के अलावा अगर कोई सबसे जरूरी चीज है तो वो है पानी।इसलिए खेती करने के लिए पानी का इंतजाम भरपूर रखना बहुत जरूरी होता है। गिरते भूजल स्तर और बिजली की परेशानी के कारण से किसानों के सामने सिंचाई एक बहुत बड़ी समस्या है। किसान अलग-अलग विकल्पों की तरफ रुख करते हैं। इन समस्याओं को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा पीएम कुसुम योजना (PM Kusum Scheme) लॉन्च की गई है। जिसके तहत किसानों को सब्सिडी पर सोलर पंप मिलेंगे जिससे खेती करने के लिए किसानों को किसी तरह की परेशानी ना हो।इसके अलावा किसानों को सोलर संयत्र स्थापित करने कि लिए लोन भी दिया जाएगा।

सरकार देती है Solar Pump Subsidy

सोलर पंप पर सब्सिडी किसानों को ही नहीं बल्कि किसान पंचायत, सहकारी समितियों को भी दिया जाएगा। इस पर किसानों को 60 फीसदी तक सब्सिडी मिलेगी. इस सोलर संयंत्र को स्थापित करने के लिए किसानों को 30 फीसदी तक लोन मिलता है। किसान को इस प्रोजेक्च का सिर्फ 10 फीसदी खर्च होता है। किसान सोलर संयंत्र की स्थापना करके अच्छी आय कर सकते हैं. 4-5 एकड़ जमीन पर सोलर संयंत्र स्थापित करके 15 लाख बिजली यूनिट का उत्पादन कर सकते हैं। बिजली विभाग अगर उसे 3 रुपये 7 पैसे के टैरिफ पर खरीदने पर आराम से सालाना 45 लाख रुपये की आय हासिल हो जाती है।

Farmers
Source- WWF/Twitter

किसानों को इसकी जानकारी नहीं है इस वजह से इस योजना को कोई समझ नहीं पाता। किसानों को इसके प्रति जागरुक करना होगा। इससे उनके फसलों की सिंचाई प्रभावित होती हैं। परिणाम के रूप में उपज प्रभावित हो जाती है। राज्य या सरकारें केंद्र के साथ मिलकर इसे अपने-अपने स्तर पर संचालित होती है। ऐसे में ज्यादा जानकारी के लिए किसानों को अपने राज्य के विद्युत विभाग से संपर्क करके किसानों को इसकी जानकारी मिल जाएगी।

इसे भी पढ़ें: EPFO Rules: एक गलती की वजह से पेंशन मिलना हो जाएगी बंद, PPO नंबर खो जाने पर तुरंत करें ये काम, जानें आवेदन की पूरी प्रक्रिया

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें