comscore
Thursday, February 2, 2023
- विज्ञापन -
Homeबिजनेसये है आखिरी Indian Railways Station, जानें कहां मौजूद है ये स्टेशन और क्या है इसकी खासियत?

ये है आखिरी Indian Railways Station, जानें कहां मौजूद है ये स्टेशन और क्या है इसकी खासियत?

Published Date:

Last Indian Railways Station: देश में कई ऐसे इलाके हैं, जहां से पैदल विदेश जाया जा सकता है. पड़ोसी देशों से सटे सीमांत इलाकों से ऐसा संभव है. ऐसा ही एक रेलवे स्‍टेशन है जो पश्चिम बंगाल में पड़ता है और बांग्लादेश की सीमा से सटा हुआ है.यह अंग्रेजों के राज का स्‍टेशन है और अंग्रेज इस स्‍टेशन को जैसा छोड़ गए थे, आज भी तस्‍वीर बहुत बदली नहीं है.

यहां है ये Indian Railways Station स्टेशन

भारत के इस आखिरी रेलवे स्टेशन का नाम है सिंहाबाद. यह स्‍टेशन है पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के हबीबपुर इलाके में. इस स्टेशन में वैसे तो कोई भी खास बात नहीं है, लेकिन यह भारत का आखिरी सीमांत स्‍टेशन है, जो बांग्‍लादेश की सीमा के करीब है.

सिंहाबाद बांग्लादेश के इतना पास है कि लोग कुछ किमी दूर बांग्लादेश पैदल घूमने चले जाते हैं. इस छोटे से रेलवे स्टेशन पर बहुत लोग नहीं दिखते. इस रेलवे स्टेशन का इस्तेमाल मालगाड़ियों के ट्रांजिट के लिए किया जाता है. यहां से मैत्री एक्सप्रेस नाम से दो यात्री ट्रेनें गुजरती हैं.

ज़रूर पढ़े : व्यपार और प्यार में कैसा है आपका वास्तु, डेली अपडेट्स !

भारत की आजादी के बाद हुआ विरान

भारत की आजादी के बाद जब देश का बंटवारा हुआ, उसके बाद से इस स्टेशन पर काम बंद हो गया और यह स्‍टेशन वीरान हो गया था. 1978 में जब इस रूट पर मालगाड़ियां शुरू हुईं, तब फिर से यहां सीटियों की आवाज गूंजने लगी. ये गाड़ियां पहले भारत से बांग्‍लादेश आया-जाया करती थीं. नवंबर 2011 में पुराने समझौते में संशोधन के बाद पड़ोसी देश नेपाल को भी इसमें शामिल किया गया.

इस स्टेशन पर सिग्रल, संचार और स्टेशन से जुड़े उपकरण भी बदले नहीं गए हैं, बल्कि सबकुछ पुराने ढर्रे पर चल रहा है. यहां अभी भी सिग्रलों के लिए हाथ के गियरों का इस्तेमाल होता है. रेलवे के कर्मचारी भी यहां नाम मात्र ही हैं. यहां का टिकट काउंटर बंद किया जा चुका है. केवल मालगाडियां ही सिग्नल का इंतजार करती हैं, जिन्हें रोहनपुर के रास्ते बांग्लादेश जाना होता है.

यह भी पढ़ें: UPRVUNL Recruitment 2022- 10वीं पास के लिए सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका, आवेदन करने से पहले जान लें खास बातें

मिस न करें : ज़िन्दगी जीने और स्वस्थ रहने के सटीक उपाय

Don’t Miss : यहाँ है क्रिकेट का अड्डा, पाएं खेल सम्बन्धी लेटेस्ट अपडेट

Punit Bhardwaj
Punit Bhardwaj
पुनीत भारद्वाज एक उभरते हुए पत्रकार हैं और The Vocal News Hindi में बतौर Sub-Editor कार्यरत हैं। उनकी रुचि बिजनेस,पॉलिटिक्स और खेल जैसे विषयों में हैं और इन विषयों पर वह काफी समय से लिखते आ रहे हैं। उन्होंने अपनी जर्नलिज्म की पढ़ाई AAFT से की है।
- विज्ञापन -

ताजा खबरें

अन्य सम्बंधित खबरें

शॉट हो तो ऐसा! Suryakumar Yadav ने घुटना टेक ठोका टावर से ऊंचा छक्का, देखें ये हैरतअंगेज वीडियो

Suryakumar Yadav: इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) के...

Lenovo IdeaPad: 40% के डिस्काउंट पर मिल रहा ये झपीट लैपटॉप, वजन और कीमत दोनों हैं कम

Lenovo IdeaPad: अगर आप नया लैपटाप लेने की प्लानिंग...