ऑनलाइन अर्निंग करने वालो की संख्या में बढ़ोत्तरी? कैसे डिजिटल मार्केटिंग कोर्स ने बढ़ा दिए ऑनलाइन अर्निंग करने के रास्ते

Digital Marketing

इन दिनों आप डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) के बारे में काफी सुन रहे हैं। चलिए जानते डिजिटल मार्केटिंग क्या है और इससे आज के समय में करना क्यों आवश्यक है। इंटरनेट के प्रति यूजर का रुझान बहुत ही तेजी से बढ़ रहा ह। आज बिजनेस और आर्गेनाईजेशन, डिजिटल मार्केटिंग को बहुत ही तीव्र गति से अपना रहे है।

आज की तारीख में यदि हम मार्केट के ओर निहारे तो लगभग 80% किसी के प्रोडक्ट को खरीदने से पहले उसकी सर्विस लेने से पहले उसकी ऑनलाइन जानकारी लेना पसंद करते है। या फिर कहे रिसर्च करना पसंद करते हैं। इस परिस्थिति में किसी भी कंपनियां या बिजनेस को डिजिटल मार्केटिंग के बारे में पता होना आवश्यक है। चलिए आपको डिटेल में बताते हैं।

नीचे कुछ प्रश्न दिए गए हैं जो हर व्यक्ति के दिमाग में आएंगे जो डिजिटल मार्केटिंग के बारे में जानना चाहते हैं।

  • डिजिटल मार्केटिंग क्या है?
  • डिजिटल मार्केटिंग आने वाले समय में क्यों जरूरी रहेगा?
  • डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing Course in Delhi) कौन कौन से व्यक्ति सीख सकते हैं?
  • डिजिटल मार्केटिंग को सीखने के बाद आप किस तरह के फायदे उठा सकते हैं?

तो यह कुछ ऐसे प्रश्न है जो आपके दिमाग में भी आते होंगे। चलिए अब इनका एक-एक करके उत्तर दिया जाए।

सबसे पहले बात करते डिजिटल मार्केटिंग क्या है? (What Is Digital Marketing) डिजिटल मार्केटिंग, जिसका प्रयोग करके आप ऑनलाइन माध्यम से ग्राहक तक पहुंच सकते है। कंपनी में बनाई जाने वाली वस्तुएं और सेवाओं को डिजिटल साधनों के या डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से प्रमोट किया जाता है। इस प्रक्रिया को आप सिर्फ इंटरनेट के माध्यम से ही कर सकते हैं जिसमें कंप्यूटर, मोबाइल फोन, लैपटॉप, वेबसाइट और इससे भी ज्यादा चीजों की आवश्यकता पड़ती है।

डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसा जरिया है जिससे नए ग्राहकों तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। डिजिटल मार्केटिंग से उत्पादक या ग्राहक तक पहुंचने के साथ ही उनकी हर एक गतिविधि पर भी नजर रखा जा सकता है। ग्राहकों का रुझान किस तरफ है, ग्राहक क्या पसंद करता है, ग्राहक क्या लेना चाहता है, डिजिटल मार्केटिंग के द्वारा बहुत ही आसानी से इन सब चीजों के बारे में जाना जा सकता है।

डिजिटल मार्केटिंग क्या होता है? चलिए इस प्रश्न का उत्तर देते हैं। डिजिटल मार्केटिंग के अंदर बहुत सारे फंक्शन है जैसे सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO), ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing), मोबाइल मार्केटिंग (Mobile Marketing), गूगल एड्स (Google Ads), वेबसाइट डिजाइन (Website Design) डिजिटल मार्केटिंग के अंदर और भी इससे ज्यादा फंक्शन आते है। जिसमें आप अपने कस्टमर्स को और उन्हें एक लंबे समय तक के लिए अपना ग्राहक बना सके।

डिजिटल मार्केटिंग आने वाले समय में क्यों बहुत ज्यादा जरूरी हैं। अगर हम आज के समय में 20 से 30 साल पहले की बात करें तो उस वक्त लोग टीवी, न्यूज़पेपर, मैगज़ीन, और रेडियो के माध्यम से अपनी सामग्रियों को लेना पसंद करते थे। या उनका चुनाव करते थे। लेकिन अब ऐसा नहीं है। अभी तेजी से बदलाव आ गया है। यह बदलाव दो प्रकार के हैं, आज के समय में लोग अपना ज्यादा समय फेसबुक पर व्यतीत करते हैं फेसबुक पर दोस्त और परिवार वालों के साथ कनेक्ट करने के अलावा प्रोडक्ट की जानकारी भी प्राप्त करना पसंद करते हैं।

टीवी देखने की जगह अब वह यूट्यूब देखना ज्यादा पसंद करते हैं। न्यूज़ पेपर पढ़ने की जगह अब वह ब्लॉग पढ़ना पसंद ही करते हैं यही कुछ मुख्य कारण है कि आज के समय में डिजिटल मार्केटिंग का स्कोर तेजी से बढ़ गया ह। इंटरनेट के इस दौर में जनता अपनी सुविधा के अनुसार मनपसंद या आवश्यक सामान को आसानी से प्राप्त कर सकते है।

कोई बाजार जाने से बचता है ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग आपके बिजनेस में बनाए गए प्रोडक्ट और सर्विसेज को लोगों तक पहुंचाने में बहुत ज्यादा मदद करती है डिजिटल मार्केटिंग एकमात्र वह वजह है जिसे कम समय में वह एक की वस्तु के कई प्रकार से दिखाया जा सकता है और उपभोक्ता को जो पसंद आए वह वह तुरंत ले सकता है।

डिजिटल वर्ल्ड का फायदा उठाते हुए व्यक्ति अब बाजार ना जा करके अपनी चीजों को ऑनलाइन खरीद सकता है। और बाजार जाने में जो समय व्यतीत होता है उससे बच सकता ह। आज व्यापारी को भी डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से काफी मदद मिल रही है। वे भी कम समय में ज्यादा लोगों से जुड़ पा रहे है। कंपनी को डिजिटल मार्केटिंग की आवश्यकता क्यों होती है?

कंपनी को डिजिटल मार्केटिंग की जरूरत होती है जिससे वह उनके ऐड कैंपेन्स को मैनेज कर सके जिसके लिए कंपनियों उन्हें बहुत अच्छी सैलरी भी देती है । विकिपीडिया के मुताबिक इंटरनेट इस्तेमाल करने के मामले में भारत पूरी दुनिया में सेकंड नंबर पर आता है। इसका अर्थ है डिजिटल मार्केटिंग का बोलबाला सबसे ज्यादा भारत में है।

डिजिटल मार्केटिंग के फायदे (Benefits Of Digital Marketing)

डिजिटल मार्केटिंग आपके औद्योगिक क्षेत्र को आगे बढ़ाने में मदद करता हैं। यह आपको जॉब दिलवाने में मदद करता है और साथ ही आप में एंटरप्रेन्योर के गुणों का भी विकास करता ह।

अगर आप में डिजिटल मार्केटिंग की स्किल्स है तो आप किसी भी कंपनी की मदद कर सकते हैं। आप उनका सोशल मीडिया संभाल सकते हैं और गूगल एड्स रन कर सकते हैं । अगर आपको डिजिटल मार्केटिंग का संपूर्ण ज्ञान है तो आप अपने खुद के बिजनेस को भी काफी तेजी से बढ़ा सकते हैं ।

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

सर्च इंजन ऑप्टीमाईजेशन या SEO क्या है ?: इस प्रक्रिया के जरिए आप लोगों को अपनी वेबसाइट तक लाते हैं | यह एक ऐसी प्रक्रिया है जो थोड़ा वक्त लेती है लेकिन आपकी वेबसाइट को गूगल के पहले पेज पर दर्शाती है।

सोशल मीडिया मार्केटिंग: सोशल मीडिया मार्केटिंग के द्वारा आप अपना विज्ञापन कई लोगों को दिखाते हैं इसमें फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म शामिल है। सोशल मीडिया आज सिर्फ एक दूसरे से जुड़ने का माध्यम नहीं रह गया|

ईमेल मार्केटिंग : जब आप ईमेल के जरिए अपने प्रोडक्ट या सर्विस को लोगों तक पहुंचाते हैं, इसे ईमेल मार्केटिंग कहा जाता है | यह कस्टमर तक पहुंचने का बहुत ही सटीक माध्यम है|

यूट्यूब चैनल: यूट्यूब चैनल में तो आपने देखा ही होगा कि जब भी आप कोई वीडियो देखते हैं तो सबसे पहले एड या विज्ञापन आते हैं, इसका मतलब यूट्यूब चैनल के जरिए कंपनी अपना प्रमोशन करती है | दोस्तों इससे यह मालूम होता है की यहाँ बहुत ज्यादा लोगों की भीड़ रहती है या यूं कहे की बहुत सारे यूजर्स यूट्यूब पर आना पसंद करते हैं।

पे पर क्लिक एडवरटाइजिंग (PPC): यह एक इंटरनेट विज्ञापन मॉडल है और साइट पर इस्तेमाल किया जाता है | इसके जरिए विज्ञापनदाता दूसरी वेबसाइट और सर्च इंजन में अपना विज्ञापन शो करता है|

एप्स मार्केटिंग : यह डिजिटल मार्केटिंग का एक बहुत ही उत्तम रास्ता है क्योंकि आज बड़ी संख्या में लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं । इंटरनेट पर अलग-अलग ऐप बनाकर उसे लोगों तक पहुंचाने और अपने उत्पाद का प्रचार करने को एप्स मार्केटिंग कहते हैं ।

डिजिटल मार्केटिंग में नौकरियों के अवसर और शुरुआत में मिलने वाली सैलरी का विश्लेषण

शायद आप में से कई लोग नहीं जानते होंगे की डिजिटल मार्केटिंग में आने वाले समय में बहुत सारी जॉब रहेंगी क्योंकि:

डिजिटल मार्केटिंग एक नया माध्यम है या न्यूफील्ड है | (Master In Digital Marketing)

बहुत सारी कंपनियों को डिजिटल मार्केटिंग से सराबोर कर्मचारियों की आवश्यकता है |

इंडिया में अभी भी बहुत सारे डिजिटल मार्केटर्स की आवश्यकता है |

आज के समय में डिजिटल मार्केटिंग जॉब्स में बहुत अच्छी सैलरी पाई जाती है |

डिजिटल मार्केटिंग में फ्रेशर्स को मिलने वाली सैलरी

जितने भी नव युवा हैं या फ्रेशर्स हैं उनकी सैलरी डिजिटल मार्केटिंग में 3.6 लाख सालाना होती है | और कभी कभी यह यह रकम 4.5 लाख सालाना भी हो जाती है |

अगर आपको इस फील्ड में 5 से 10 साल का एक्सपीरियंस है आपकी सैलरी 12 से 20 लाख सालाना हो सकती है

अगर आपको 10 साल से ज्यादा का तजुर्बा है तो आपकी सैलरी 20 लाख से 50 लाख तक सालाना हो सकती है | कई केसेस में आपको 80 लाख या एक करोड़ भी मिलती है |

डिजिटल मार्केटिंग कौन सीख सकता है? (Best Digital Marketing Institute in Noida)

डिजिटल मार्केटिंग को करने के लिए किसी भी डिग्री की आवश्यकता नहीं है |
अगर आप 12वीं पास है या कॉलेज कर रहे हैं, या नौकरी कर रहे हैं, तो भी आप डिजिटल मार्केटिंग सीख सकते हैं |
इसे सीखने के लिए कंप्यूटर और इंटरनेट की आवश्यकता पड़ती है |

बाजार में कई बेहतर इंस्टिट्यूट है जो डिजिटल मार्केटिंग कोर्स (Digital Marketing Course) करवाते हैं और साथ ही नौकरी भी लगवाते हैं |

निष्कर्ष

डिजिटल मार्केटिंग एक बहुत अच्छी फील्ड है जिसका उपयोग करके अब अपने व्यापार को आगे बढ़ाते हैं और ऑनलाइन अर्निंग (Earn Money From Blogging) करते हैं |

यह भी पढ़ें: डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) की मदद से ऐसे दे सकते हैं अपने बिज़नेस को दोगुनी रफ़्तार