मेडिकल पाठ्यक्रमों में आरक्षण को मिली मंजूरी, 27 फीसदी ओबीसी और 10 फीसदी ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू

neet ug pg admissions 2021

NEET UG, PG admissions 2021: नीट अभ्यर्थियों के लिए बड़ी खबर है. यूजी और पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिले (NEET UG, PG admissions 2021) के लिए आरक्षण को लागू कर दिया गया है. शैक्षणिक वर्ष 2021-22 के लिए आरक्षण लागू किए जाएँगे. बता दें कि सरकार ने डेंटल और अन्य चिकित्सीय प्रोग्रामों के लिए ओबीसी और ईडब्ल्यूएस कोटा को मंजूरी दे दी है.

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक अखिल भारतीय कोटा योजना के तहत ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला लिया गया है. इन्हें यूजी और पीजी मेडिकल में दाखिले के लिए आरक्षित वर्गों में रखा जाएगा.

अखिल भारतीय कोटा के तहत इस आरक्षण से लगभग 5,500 छात्रों को लाभ होने की संभावना है. सभी मेडिकल और डेंटल कोर्स इस आरक्षण के दायरे में आएंगे.

बता दें कि आरक्षण का मसला काफी समय से लंबित था. पीएम मोदी ने बीते 26 जुलाई को केन्द्रीय मंत्रियों से बैठक के दौरान इसपर जल्दी समाधान निकालने का आदेश दिया था. जिसके बाद ही आरक्षण मुद्दे पर निर्णय लिया गया है. अब नीट यूजी और पीजी के दाखिले के लिए हर वर्ष 2500-3000 ओबीसी अभ्यर्थियों को स्नातक व स्नातकोत्तर प्रोग्राम में फायदा मिलेगा. जबकि 550 ईडब्ल्यूएस छात्रों एवं स्नातकोत्तर में लगभग 1000 ईडब्ल्यूएस छात्रों को फायदा होगा.

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि इस फैसले से करीब 5,550 विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा. सरकार पिछड़े वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को आरक्षण देने के लिए प्रतिबद्ध है.

ये भी पढ़ें: उत्तराखंड कैबिनेट का बड़ा फैसला, प्रदेश में शुरू होगी कक्षा छठी से 12वीं तक की कक्षाएं

SHARE