Covid 19: तीसरी लहर से बच्चों पर क्या होगा असर? WHO और AIIMS ने सर्वे में बताया

children vaccination Trial
Image Credits: Pixabay

कोरोना वायरस की तीसरी लहर (Third Wave) के आने से क्या बच्चों पर अधिक प्रभाव पड़ेगा इसके लिए सभी लोग काफी चिंतित हैं. इसको लेकर लगातार सर्वे किया जा रहा है. वहीं डब्ल्यूएचओ (WHO) और एम्स (AIIMS) ने एक सर्वेक्षण किया है. जिसमें उन्होंने पाया है कि कोरोना की तीसरी लहर का बच्चों पर अधिक प्रभाव पड़ने की संभावना नहीं है. आपको बता दें कि पहले डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का कहना था कि तीसरी लहर बच्चों को अपनी चपेट में ले सकती है.

समाचार एजेंसी एएनआइ से मिली जानकारी के अनुसार डब्ल्यूएचओ और एम्स ने सर्वेक्षण कर पाया गया है कि कोरोना वायरस की तीसरी लहर में बच्चों के अधिक प्रभावित होने की आशंका कम है. सर्वेक्षण में देखने को मिला है कि वयस्कों के मुकाबले बच्चों में सार्स-सीओवी-2 की सीरो पॉजिटिविटी रेट ज्‍यादा थी. यह सर्वेक्षण देश के पांच राज्यों में किया गया था. इसमें 10 हजार बच्चों के नमूने लिए गए थे.

सामाचार एजेंसी एएनआई से मिली जानकारी के मुताबिक WHO और AIIMS के सर्वेक्षण के अनुसार, कोरोना की संभावित तीसरी लहर का बच्चों पर अधिक प्रभाव पड़ने की संभावना नहीं है. भारत के चार राज्यों से मध्यावधि विश्लेषण के समय के परिणामों के लिए 4,500 प्रतिभागियों का डेटा लिया गया था और अगले दो से तीन महीनों में और परिणाम आने की संभावना है.

ये भी पढ़ें: भारत के इन नौ शहरों को मिलेगी रूस की वैक्सीन Sputnik V, यहां देखें लिस्ट