Health Tips: नेचुरल तरीकों से कोलेस्ट्रॉल को करें कंट्रोल, बस अपनाएं ये 5 टिप्स

cholesterol

Health Tips: आजकल लोगों में कुछ ना कुछ बदलाव आ रहा है। शरीर में हाई बीपी और कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ रहा है। बॉडी में कोलेस्ट्रॉल ज्यादा बढ़ने पर ये हार्ट अटैक, किडनी फेलियर और स्ट्रोक जैसी बड़ी समस्याओं का खतरा बढ़ा सकता है। अनहेल्दी लाइफस्टाइल या कभी कभी जैनेटिक कारणों से ये समस्या पैदा हो सकती है। कोलेस्ट्रॉल लिपोप्रोटीन के साथ बॉडी में सर्कुलेट होते हैं। एलडीएल कोलेस्ट्रॉल ब्लड वेसल्स में जमने से ब्लड सर्कुलेशन को रोककर सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। इसीलिए ज़रूरी है कि बॉडी में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने के लिए एचडीएल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाई जाए। जानते हैं इसे कंट्रोल करने के तरीके।

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के कुछ नेचुरल तरीके

नियमित एक्सरसाइज

एक्सरसाइज करने से हमारी बॉडी फंक्शनिंग सुधरती है जिससे कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल होता है। हल्की फुल्की एक्सरसाइज भी हार्ट हेल्थ सुधार सकती है और हमें कोलेस्ट्रॉल के खतरे से बचा सकती है।

सॉल्यूबल फाइबर का सेवन
सेम, मटर, दाल, फल और दूसरे होल ग्रेंस सॉल्यूबल फाइबर के अच्छे सोर्स हैं. इनका सेवन प्रोबायोटिक गट बैक्टीरिया को पोषण देता है जो एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को बॉडी से बाहर निकालने में मदद करता है।

मोनोअनसैचुरेटेड फैट्स का सेवन

जैतून का तेल, कैनोला तेल, ट्री नट्स, और एवोकाडो जैसे मोनोअनसैचुरेटेड फैट्स का सेवन एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है, साथ ही एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में भी मदद करता है जिससे सही कोलेस्ट्र\ल लेवल मेंटेन रहता है।

पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स का सेवन

वैसे तो सभी पॉलीअनसेचुरेटेड फैट हेल्दी होते हैं पर ओमेगा-3 ऐसा पॉलीअनसेचुरेटेड फैट है जो हार्ट हेल्थ को भी मज़बूत करता है, जिससे पूरी बॉडी हेल्दी बनती है।

ट्रांस फैट से दूरी बनाएं
ट्रांस फैट का हमारी बॉडी में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है, साथ ही एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करता है जिससे बॉडी का कोलेस्ट्रॉल लेवल बिगड़ जाता है और सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

ये भी पढ़ें: Tiranga Sandwich Recipe: स्वतंत्रता दिवस पर बनाएं तिरंगा सैंडविच, ये रही आसान रेसिपी