Chanakya Niti: ऐसे स्वभाव वाले व्यक्ति से सदा बनाकर रखें दो गज की दूरी, वरना…

Chanakya Niti
Image Credit:- thevocalnewshindi

Chanakya Niti: किसी भी व्यक्ति का स्वभाव एक ऐसा विशेष गुण होता है. जिसके जरिए वह बेगानों को भी अपना बना लेता है और अपनों को भी बेगाना बना देता है. ऐसे में हर व्यक्ति का अपना अपना विशेष स्वभाव होता है. जिसकी जानकारी आपको अवश्य होनी चाहिए. यदि आपको लोगों का स्वभाव समझना आ गया तो समझिए आपको दुनियादारी की नीति आ गई.

ये भी पढ़े:- नौकरी हो या व्यापार, सफलता पाने के लिए चाणक्य की इन बातों को कर लें आत्मसात

चाणक्य नीति में विभिन्न लोगों के बारे में बताया है. इसी के साथ इस नीति में ऐसे स्वभाव वाले लोगों के बारे में भी बताया है जिन्हें हमेशा अपनी बात सही लगती है. ऐसे लोग अक्सर अपनी बात को ही सही समझते हैं. ऐसे स्वभाव वाले लोग किसी को भी अपना दुश्मन समझ बैठते हैं और मनमानी किया करते हैं. तो आइए जानते हैं ऐसे स्वभाव वाले लोग किस तरह के होते है.

Chanakya Niti

बुराई का स्वभाव करता है सामने वाले को भी प्रभावित

आचार्य चाणक्य द्वारा बताया गया है जो लोग किसी बुराई से प्रभावित होते हैं. वे लोग अपनी बुराई के स्वभाव से अन्य लोगों को प्रभावित करते हैं. जिस प्रकार पति और पत्नी में से कोई एक भी अगर गलत कार्य करता है तो उसका भुगतान दोनों को ही करना पड़ता है.

लालची लोग बन जाते हैं दुश्मन

आचार्य चाणक्य के अनुसार जो लोग घर से बेहद प्रेम करते हैं. जिनके लिए सर्वस्व धन है, वे लोग धन की लालच में अंधे होते हैं. ऐसे में यदि उनसे कोई धन मांगता है तो वह व्यक्ति उनसे उनकी प्रिय वस्तु छीन रहा होता है. जिसके चलते एक लालची व्यक्ति उसे अपना दुश्मन मानने लग जाता है.

Chanakya Niti

मूर्ख व्यक्तियों के दुश्मन हैं समझाने वाले

ज्ञान देने का कार्य हमेशा ज्ञानी व्यक्ति ही करता है. लेकिन जो लोग मूर्ख होते हैं उन्हें ज्ञानियों की बातें कभी भी समझ नहीं आती हैं. ऐसे लोग ज्ञान देने वाले व्यक्ति को ही अपना दुश्मन समझना शुरू कर देते हैं.

गलत स्वभाव का व्यक्ति बना लेता है दुश्मन

चाणक्य नीति के अनुसार जो व्यक्ति गलत स्वभाव का होता है. वह चाहता है कि उसके आसपास के सभी लोग उसके स्वभाव के ही हो, लेकिन यदि उसके आसपास अच्छे व्यक्ति होते हैं तो वह उन अच्छे लोगों को ही अपना दुश्मन समझ बैठता है.