Shardiya Navratri 2022: इस नवरात्रि हाथी पर सवार होकर आ रही है देवी दुर्गा, लेकर आएंगी ये शुभ संदेश

Shardiya Navratri 2022
Image Credit:- thevocalnewshindi
Last updated:

Shardiya Navratri 2022: अगस्त महीने की समाप्ति के बाद सितंबर का महीना शुरू हो जाएगा. सितंबर के महीने के आखिर से यानी जब भादो का महीना समाप्त होकर अश्विन का महीना लग जाएगा. तब शारदीय नवरात्र मनाए जाते हैं. महीने के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि शुरू हो जाएंगे, जो कि इस बार 26 सितंबर से शुरू होने वाले हैं और 5 अक्टूबर तक चलेंगे. शारदीय नवरात्र का इंतजार हर उस भक्त को रहता है, जोकि देवी दुर्गा का अनन्य भक्त है.

ये भी पढ़े:- कर्ज के बोझ से पाना चाहते हैं मुक्ति, तो देवी मैया को जरूर अर्पित करें ये 5 चीजें…

ऐसे में हमारे आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि इस बार देवी दुर्गा शेर पर ना बैठकर बल्कि हाथी पर सवार होकर आएंगी. ऐसे में ज्योतिष की दृष्टि से देखें तो इसका अपना एक महत्वपूर्ण कारण और महत्व है. हमारे आज के इस लेख में हम आपको इसी के विषय में बताने वाले हैं. तो चलिए जानते हैं…

Gupt Navratri 2022

शारदीय नवरात्रों की तिथियां और शुभ मुहूर्त

26 सितंबर 2022 सुबह 03:24 बजे से आरंभ
27 सितंबर 2022 सुबह 03:08 बजे तक

घट स्थापना मुहूर्त

26 सितंबर 2022 सुबह 06:20 बजे से 10:19 बजे तक

Chaitra Navratri 2022

इस नवरात्रि देवी दुर्गा की सवारी का विशेष अर्थ

शारदीय नवरात्र हर साल सितंबर के आखिरी समय में मनाए जाते हैं. ऐसे में इस बार शारदीय नवरात्रों की शुरुआत 26 सितंबर से होने जा रही है. जिसकी तैयारियां अभी से शुरू हो गई हैं. नवरात्रि का त्यौहार नौ देवियों की भक्ति और विधि विधान से पूजा अर्चना का पर्व है. इस दौरान देवी दुर्गा के भक्त माता दुर्गा के नौ रूपों की विधि विधान से भक्ति करता है और उनसे विशेष आशीर्वाद प्राप्त करता है.

Chaitra Navratri 2022

जैसा की विधित है कि इस बार देवी दुर्गा हाथी पर बैठकर आने वाली है. ज्योतिष की दृष्टि में दुर्गा माता की हाथी पर सवारी बेहद ही शुभ रहने वाली है. ऐसे में जब शारदीय नवरात्र पर देवी दुर्गा शेर पर सवार ना होकर बल्कि हाथी पर सवार होकर आएंगे तो वह अपने भक्तों के लिए बेहद फलदाई रहने वाली हैं. जिसकी बदौलत देवी दुर्गा के भक्तों के जीवन में सुख शांति और समृद्धि आएगी, और देवी दुर्गा अपने भक्तों पर सदैव अपनी कृपा बनाए रखेंगी.