Asteroid से धरती को बचाने में जुटे नासा के वैज्ञानिक, जानिए कैसे

NASA scientists trying to save Earth from Asteroid, know how
IMAGE CREDITS: UNPLASH

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) के वैज्ञानिक एस्टेरॉयड (Asteroid) के धरती से टकराने के खतरे को देखते हुए इससे निपटने की तैयारी शुरू कर दी है. अमेरिकी वैज्ञानिक (American Scientists) इन एस्टेरॉयड को धरती की कक्षा (Earth’s Orbit) से दूर भेजने के एक वैकल्पिक रास्ते की खोज में जुटे हुए हैं.

Nuclear Weapons हो इस्तेमाल

वैज्ञानिकों ने सलाह दी है कि एस्टेरॉयड के खतरे को देखते हुए परमाणु हथियारों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. यह गैर-परमाणु (Non-Nuclear Weapons) हथियारों से बेहतर हैं. बता दें कि अमेरिका (US) के लारेंस लिवरमूर नेशनल लैब (Lawrence Livermoor National Lab) के वैज्ञानिक (Scientists) अमेरिकी एयर फोर्स (US Air Force) के टेक्निकल एक्सपर्ट्स की टीम के साथ काम कर रहे हैं.

न्‍यूट्रॉन ज्‍यादा कारगर

इस टीम में शामिल वैज्ञानिक लांसिंग होरान ने कहा कि परमाणु बम विस्‍फोट के बाद होने वाले न्‍यूट्रॉन रेडिएशन (Neutron radiation) से एस्टेरॉयड से छुटकारा पाया जा सकता है. उन्‍होंने कहा कि एक्‍स-रे की तुलना में न्‍यूट्रॉन ज्‍यादा कारगर साबित हो सकते हैं.

22 ऐसे एस्टेरॉयड हैं

अमेरिकी वैज्ञानिक होरान ने कहा कि परमाणु हथियार वाले विकल्प का इस्तेमाल तब किया जाएगा जब बहुत कम समय बचेगा. अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के अनुसार, 22 ऐसे एस्टेरॉयड हैं जिनके अगले 100 साल में धरती से टकराने की संभावना है.

उल्लेखनीय है कि अगर कोई ऑब्जेक्ट 46.5 लाख मील प्रति घंटा यानी 74 लाख किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से धरती की तरफ आता है तो एजेंसी उसे खतरा मानती है. नासा सेंट्री सिस्टम के जरिए ऐसे खतरों नजर रखता है.

यह भी पढ़ें : American Scientist Invention : वैज्ञानिकों तैयार की अनोखी चिप, जाने यहां…