क्रिकेट की पवित्रता को कलंक लगाने वाली 5 नस्लीय टिप्पणियाँ, कुत्ता,कालू और बन्दर जैसे गूँजे थे अपशब्द

image credit: england cricket/twitter

क्रिकेट जैसे बड़े खेल को दुनियाभर में सभी लोग काफी पसन्द करते है और साथ ही इसे खेलने वाले क्रिकेटरों की इज़्जत भी करते है.

लेकिन कभी कभी खिलाड़ियों व दर्शकों द्वारा कुछ ऐसे कृत्य भी हो जाते है जो इस खेल व इसके अनुयायियों की भवनाओं को गहरी चोट पहुंचाते है.

क्रिकेट की दुनिया में कुछ इस तरह की टिप्पणियों का सामना किया हमारे खिलाड़ियो ने-

जब दर्शकों ने तोड़ दी थी सारी मर्यादायें

जनवरी 2021 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी 4 मैचों की सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच में सिडनी में खेला जा रहा था.

और टेस्ट के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों ने मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह पर गंदी फब्तियां कसी थी और तो और चौथे दिन उन्होंने सिराज को कथिततौर पर ‘बिग ब्राउन’ और ‘बिग मंकी’ तक कहा था.

भज्जी ने एंड्रयू साइमंड्स को कह दिया था बन्दर

Credit – Instagram

साल 2008 में ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान हरभजन सिंह और एंड्रयू साइमंड्स के बीच मैदान के भीतर काफी बहस हुयी थी.

और बाद में साइमंड्स ने भज्जी पर नस्लीय टिप्पणी करते हुए बंदर कहने का आरोप भी लगाया था. इसके बाद हरभजन को 3 मैच के लिए बैन कर दिया गया.

हालाँकि सचिन तेंदुलकर द्वारा भज्जी का समर्थन करने से बाद में यह बैन हटा दिया गया था.

साथियों द्वारा “कालू” कहे जाने पर आहत हुए थे डेरेन सैमी

Credit – Twitter

वेस्टइंडीज के स्टार ऑलराउंडर डेरेन सैमी भी आईपीएल के दौरान नस्लीय टिप्पणी का शिकार हुए थे.

जब वह आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से खेल रहे थे तब उनके साथी खिलाड़ी उन्हें ‘कालू’ कहकर बुलाते थे.

और बाद में सैमी ने इस शब्द को कहने वाले अपने साथी खिलाड़ियों को माफी मांगने के लिए कह डाला था. हालांकि यह मामला जल्द ही सुलझ गया था.

ओसामा से तुलना

Credit – Twitter

इंग्लैंड के ऑलराउंडर मोइन अली ने अपनी ऑटोबायोग्राफी में ‘मोइन’ में लिखा है कि उन्हें साल 2015 में कार्डिफ टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने ‘ओसामा’ कहकर बुलाया था.

उन्होंने आगे कहा की वो मुस्लिम होने के कारण लंबी दाढ़ी रखते हैं और उनकी दाढ़ी के कारण ही उन्हें इस तरह की नस्लीय टिप्पणी का सामना करना पड़ा.

सरफ़राज़ अहमद द्वारा रंगभेद पर टिप्पणी

Credit – Twitter

पाकिस्तान टीम के कप्तान सरफ़राज़ अहमद अपनी अजीबोगरीब हरकतों से लोगों के निशाने पर आ जाते है.

साल 2019 में सरफराज अहमद ने विकेटकीपिंग करते हुए बल्लेबाजी कर रहे एंडिल फेलुकवायो की मां को ही टारगेट कर दिया.

जिसमें उन्होंने फेलुकवायो को काला कहा था

सरफराज की आवाज स्टंप माइक में कैद हो गई। इसके बाद सरफराज को 4 मैचों के लिए प्रतिबंधित कर दिया.

यह भी पढ़े : क्रिकेट की दुनिया में मोहब्बत नही बल्कि नफ़रत कमाई है इन भारतीय खिलाड़ियो ने