तीन बल्लेबाज़ जिन्होनें वनडे कप्तान रहते खेली है सबसे बड़ी पारी, जानें

क्रिकेट जगत में किसी भी टीम की कप्तानी मिलने का सपना हर खिलाड़ी अपने करियर के दौरान देखता है. हालांकि बतौर कप्तान एक खिलाड़ी के रूप में ज़िम्मेदारियां और भी बढ़ जाती है. टीम के लिए बेहतर निर्णय लेने के साथ ही व्यक्तिगत तौर पर अपने खेल का सर्वश्रेष्ठ देना भी उस खिलाड़ी के ऊपर ज़िम्मेदारी बंध जाती है, जिसमे अक्सर कई कप्तान सफल होते है तो कई असफल.

कप्तानी पारी खेलते हुए किसी मैच में अपनी टीम को जीत दिलाने से बढ़कर कुछ नहीं हो सकता है और कई मौकों पर कप्तानों ने अपनी टीम को संकट से निकालने का काम भी किया है. महेंद्र सिंह धोनी का नाम उन कप्तानों में सबसे ऊपर लिया जा सकता है. उन्होंने कई मैचों में फिनिशर की भूमिका निभाते हुए टीम के लिए बेहतर कार्य किया. आज इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे वनडे कप्तानों के बारे में बताएंगे जिन्होंने बतौर कप्तान खेलते हुए वनडे की एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाए हैं.

वीरेंदर सहवाग

image credits: Flickr

इस भारतीय बल्लेबाज ने अपने अलग अंदाज और तूफानी पारियों से हर किसी का दिल जीता है. वीरेंदर सहवाग ने इंदौर में वेस्टइंडीज के खिलाफ 149 गेंदों का सामना करते हुए 219 रनों की बड़ी पारी खेली थी, इस दौरान वह भारतीय टीम के कप्तान थे. टीम इंडिया ने मेहमान वेस्टइंडीज को इस मुकाबले में 153 रनों के बड़े अंतर से हराया था. बतौर कप्तान किसी वनडे मैच में यह सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है.

रोहित शर्मा

image credits: Wikimedia

बतौर कप्तान खेलते हुए रोहित शर्मा ने 2017 में श्रीलंकाई टीम के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की थी. चंडीगढ़ में बतौर कप्तान खेलते हुए रोहित शर्मा ने कुल 153 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 208 रनों की पारी खेली थी. गौरतलब है भारतीय टीम को इस मैच में 141 रनों की बड़ी जीत हासिल हुई थी.

सनथ जयसूर्या

image credits: Wikimedia

श्रीलंका के इस विस्फोटक बल्लेबाज ने बतौर कप्तान खेलते हुए वनडे करियर का उच्चतम स्कोर भारत के खिलाफ बनाया हैं. 2000 में जयसूर्या ने टीम इंडिया के खिलाफ खेलते हुए 189 रन की पारी खेली थी. इस दौरान उन्होंने कुल 161 गेंदों का सामना किया था. बतादें, लम्बे समय तक यह पारी टॉप पर बनी रही थी.

ये भी पढ़ें: एक्सप्रेस पेस के साथ गेंदबाजी करते हैं ये 5 भारतीय तेज गेंदबाज, फेंकी हैं सबसे तेज गेंद