Tokyo Olympics: ओलंपिक गेम्स से 16 दिन पहले जापान में लगा आपातकाल, पीएम ने की घोषणा

image credit: twitter

Tokyo Olympics: ओलंपिक खेलों की शुरुआत में अब सिर्फ 16 दिन बाकी रह गए हैं. लेकिन, उससे पहले जापान में बढ़ते कोरोना वायरस के कारण राष्ट्र में आपातकाल लगाने का निर्णय किया गया है. टोक्यो में कोरोना मामलों में पिछले दो महीनों में जबरदस्त उछाल देखा गया है. जिसे देखते हुए गुरुवार को जापान सरकार के द्वारा ओलंपिक के दौरान पूरे टोक्यो में कोरोना आपातकाल लगाया जाएगा.

इसके अतिरिक्त खेलों के महाकुम्भ यानी कि टोक्यो ओलंपिक गेम्स (Tokyo Olympics) में दर्शकों की एंट्री पर भी रोक लग सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक, खेल के आयोजक मैदान पर  दर्शकों के प्रवेश निषेध कर सकती है.

राष्ट्र के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा ने घोषणा करते हुए कहा, “हम टोक्यो में आपातकाल लागू करेंगे. यह आपातकाल 22 अगस्त तक लागू रहेगा.” बता दें कि यह ऐलान तब किया गया है जब ओलंपिक खेलों के आयोजन में सिर्फ 16 दिन बाकी रह गए हैं और अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति यानी कि आईओसी (IOC) के अध्यक्ष थॉमस बाक बृहस्पतिवार को टोक्यो पहुंचे हैं.

सोमवार से प्रभाव में आ जाएगी आपात की स्थिति: सुगा

सुगा ने कहा कि सोमवार से आपात स्थिति प्रभाव में आ जाएगी और 22 अगस्त तक रहेगी. गौरतलब है कि 23 जुलाई से टोक्यो ओलंपिक का आयोजन होगा जो कि 8 अगस्त तक चलेगा. ऐसी स्थिति में अब खेलों का आयोजन आपातकालीन कदमों के साथ होगा.

टोक्यो पहुँच चुके हैं IOC अध्यक्ष

जापान के प्रधानमन्त्री ने आगे कहा कि “देश में भविष्य में संक्रमण के मामले फिर से न बढ़ें, इसके लिए आपात स्थिति लागू करना जरूरी है.” कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच थॉमस बाक IOC मुखुयालय पहुंचे. बता दें यह मुख्यालय टोक्यो शहर के बीचोबीच स्थित पांच सितारा होटल में स्थित है. यहाँ बाक तीन दिनों के लिए पृथकवास में रहेंगे.

बता दें कि वर्तमान में जापान में लगा अर्ध-आपातकाल रविवार को समाप्त हो रहा है. जहाँ पिछले सप्ताह कोरोना के 714 मामले सामने आए थे वही सिर्फ 1 हफ्ते बाद ही टोक्यो में बुधवार को कोरोना का आंकड़ा 920 पहुँच गया.

दर्शकों को नो एंट्री

टोक्यो में ख़राब होते हालातों के बावजूद आईओसी और स्थानीय आयोजक ओलंपिक खेलों का आयोजन कराने का पूरा प्रयास कर रहा है. आयोजनकर्ता दर्शकों के प्रवेश पर नो एंट्री लगा सकते हैं.

विशेषज्ञों के साथ हुई बैठक में रखा गया था प्रस्ताव

जापान में कोरोना संक्रमण की नई लहर को रोकने और ओलंपिक आयोजन को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री ने आपातकाल लागू करने का ऐलान किया है. देश में बेकाबू हो रहे कोरोना मामलों को ध्यान में रखते हुए विशेषज्ञों के साथ हुई बैठक में सरकारी अधिकारियों ने आगमी सोमवार से लेकर 22 अगस्त तक आपातकाल लगाने का प्रस्ताव रखा था.

इससे पहले मेडिकल विशेषज्ञ ने कह दिया था कि दर्शकों की एंट्री जोखिम भरा विकल्प होगा. यानी कि दर्शकों का न होना बेहतर होगा. उनके मुताबिक दुनिया भर से आए हजारों एथलीटों और अधिकारीयों के कारण संक्रमण की एक बड़ी लहर फ़ैल सकती है. हालाँकि, आयोजकों ने पहले ही विदेशी दर्शकों के आने पर रोक लगा दी है.

बता दें कि राजधानी टोक्यो में इस वक्त कोरोना से जुड़े कड़े नियम लागू नहीं किए गए हैं. इसीलिए राज्य में कोरोना का ग्राफ लगातार ऊपर जा रहा है. वही पूरे जापान में कोरोना के लगभग 8,10,000 मामले और लगभग 14,900 मौतें हुई हैं.

ये भी पढ़ें: Tokyo Olympics – हरियाणा की 19 वर्षीय अंशु मलिक अब ओलम्पिक के दंगल में खेलेंगी बड़ा दाँव